तो क्या सुधीर ही होंगे धर्मशाला उपचुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी-जानिए

दाड़ी में ब्लॉक कांग्रेस की बैठक में मिले संकेत, सुधीर ने कार्यकर्ताओं में भरा जोश

तो क्या सुधीर ही होंगे धर्मशाला उपचुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी-जानिए

- Advertisement -

धर्मशाला। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में करारी हार मिलने के बाद अब कांग्रेस (Congress) ने दो विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले उपचुनाव (By election) के लिए कमर कस ली है। उपचुनाव के लिए अपना चुनावी शंखनाद भी कर दिया है। पच्छाद विधानसभा क्षेत्र में बैठक करने के बाद आज धर्मशाला में दाड़ी स्थित पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं की बैठक हुई।


यह भी पढ़ें: जयराम ठाकुर का हिमालयी राज्यों के आपसी तालमेल पर जोर

हालांकि धर्मशाला उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के नाम का खुले तौर पर ऐलान नहीं किया, लेकिन बैठक से मिले कुछ संकेतों से ऐसा लग रहा है कि सुधीर शर्मा (Sudhir Sharma) ही कांग्रेस (Congress) के प्रत्याशी होंगे। बैठक में पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा के संबोधन ने भी इस बात के संकेत दिए हैं।

 

बड़े कार्यक्रम या जनसभाएं नहीं होंगी, घर-घर जाकर करेंगे प्रचार

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि धर्मशाला उपचुनाव (Dharamshala By election) कोई आम चुनाव नहीं है। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत 1998 में उपचुनाव लड़कर की थी। उन्हें पता है कि उपचुनाव में क्या परिस्थितियां होती हैं।

सरकार के लोग यहां तक की अधिकारी व कर्मचारी सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करते हैं। ईश्वर ने हमें उपचुनाव (By election) के रूप में एक मौका दिया है, हमें मिलकर इस मौके का फायदा उठाना है। उपचुनाव के लिए अभी से कार्य शुरू कर दिया है। बूथ कमेटियों के साथ तालमेल बिठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हम बड़े कार्यक्रम या जनसभाएं नहीं करेंगे। घर-घर जाकर लोगों से मिलेंगे।

फेसबुक व व्हाट्सएप से दूर रहें कार्यकर्ता

पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने कार्यकर्ताओं से फेसबुक (Facebook) व व्हाट्सएप (Whatsapp) जैसी सोशल मीडिया गतिविधियों से दूर रहने के लिए कहा। सोशल मीडिया (Social Media) एक धोखा है। यह एक दूसरी दुनिया है और हमें हकीकत की दुनिया में रहकर चुनाव लड़ना है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव (By election) जीतने के लिए जो करना पड़ेगा हम करेंगे। इस बीच उन्होंने कबूतरों और शिकारी की कहानी भी सुनाई। जिसमें शिकारी कबूतरों को पकड़ने के लिए जाल बिछाता है और कबूतर एकजुट होकर जाल को साथ लेकर ही उड़ जाते हैं। बाद में चूहे की मदद से आजाद होते हैं।

इसी कहानी का उदाहरण देते हुए सुधीर शर्मा (Sudhir Sharma) ने कार्यकर्ताओं से कहा कि जो जाल के बाहर लोग रह गए हैं, उन्हें अपने साथ लाना है। या तो वह लोग खुद सुधर जाएं या फिर हम मिलकर उन्हें सुधारें। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को उनकी जहां जरूरत होगी वह उनके साथ होंगे। इस बैठक में कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, केवल सिंह पठानिया, जगजीवन पाल, यादविंद्र गोमा व पवन काजल आदि मौजूद थे।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

भारी पुलिस बल की मौजूदगी में सुबाथू में तोड़े अवैध निर्माण

सीएम ने खोला खिलाड़ियों के लिए खजानाः 30 लाख बढ़ाई खेल अनुदान राशि

नादौन: इलाज के बहाने तांत्रिक ने महिला से दो साल तक किया दुष्कर्म

उपचुनावों पर बोले सत्ती , संसदीय बोर्ड को जल्द भेजी जाएगी उम्मीदवारों की सूची

वरिष्ठ न्यायाधीश धर्मचंद चौधरी फिर बने हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश

कांग्रेस ने पच्छाद व धर्मशाला सीटों के लिए पार्टी प्रत्याशियों से आवेदन मांगे

जयराम बोले- कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर जल्द करेंगे दोनों सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा

राठौर ने बीजेपी पर साधा निशाना, इतिहास से छेड़छाड़ के लगाए आरोप

चिट्टे के साथ पकड़े  बीजेपी नेता के पुत्र को नहीं मिली जमानत, कोर्ट ने रद्द की याचिका

जूनियर ऑफिस असिस्टेंट आईटी पद के लिए आए 47 आवेदन रद्द

मार्कंडेय बोलेः 25 दिसंबर को पीएम मोदी करेंगे रोहतांग टनल का उद्घाटन

सीएम को बुद्धिज्म कल्चरल स्टडी विवि का शिलान्यास करने के लिए किया आमंत्रित

हिमाचल उपचुनावः धर्मशाला व पच्छाद सीटों पर इस दिन डाले जाएंगे वोट

विधानसभा चुनाव : महाराष्ट्र-हरियाणा में 21 को वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे

सत्ती बोले, पौंग बांध विस्थापितों के पुनर्वास को अधिकारियों की समन्वय समिति गठित हो

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है