Covid-19 Update

38,435
मामले (हिमाचल)
29,686
मरीज ठीक हुए
604
मौत
9,351,224
मामले (भारत)
61,988,059
मामले (दुनिया)

भूल कर भी रात को सीएचसी हरिपुर न जाएं, नहीं तो होगा ऐसा

भूल कर भी रात को सीएचसी हरिपुर न जाएं, नहीं तो होगा ऐसा

- Advertisement -

हरिपुर। प्रदेश सरकार ने पीएचसी हरिपुर (PHC Haripur) को सीएचसी (CHC) का दर्जा तो दे दिया, लेकिन इस अस्पताल को स्वास्थ्य सुविधाएं देना सरकार भूल गई। यहां सुविधाओं के नाम पर लोगों को ठगा जा रहा है। सीएचसी में छोटी-छोटी बीमारियों का उपचार भी लोगों को नहीं मिल पा रहा है।

यह भी पढ़ें: छात्रा को मैसेज कर करता था परेशान, परिजनों ने कॉलेज पहुंचकर की धुनाई

 

जिसका उदाहरण शुक्रवार देर रात को पेश आया। हरिपुर की नजदीकी पंचायत भटोली फकोरियां से एक मरीज को हरिपुर सीएचसी लाया गया। उन्हें उल्टी व दस्त की शिकायत थी।

परिजन यह सोच कर व्यक्ति को हरिपुर (Haripur) ले गए कि हरिपुर में सीएचसी (CHC) है, वहां पर सही उपचार मिल जाएगा। लेकिन, हुआ इससे उल्टा। जब वह सीएचसी (CHC) पहुंचे तो पूरी सीएचसी (CHC) अंधेरे में थी। जैसे तैसे नर्स को उठाया। जब वहां पर तैनात नर्स से पूछा तो पता चला कि डॉक्टर नहीं हैं। जब नर्स को उपचार के लिए कहा तो उसने मना कर दिया। कहा कि बिना डॉक्टर के कहने पर वह पर्ची पर दवाई नहीं लिख सकतीं।

मरीज सतीश के बेटे सुशांक ने बताया कि हम रात करीब साढ़े 10 बजे सीएचसी (CHC) हरिपुर में गए। हॉस्पिटल में ताले लगे थे व स्टाफ अंदर सोया था। बहुत आवाजें लगाने के बाद क्लास फोर कर्मी उठीं और उसने रात्रि तैनात स्टाफ नर्स को उठाया। लेकिन नर्स ने भी दवाई लिखने से मना कर दिया। सुशांक ने कहा कि अगर सीएचसी में स्वास्थ्य सुविधाए हीं नहीं मिल पा रही हैं तो ऐसी सीएचसी का क्या फायदा। इससे अच्छा तो यह प्राथमिक केंद्र ही होता।

वहीं डिप्टी सीएमओ डॉ. राजेश गुलेरी ने कहा कि सीएचसी में एक ही डॉक्टर है। एक डॉक्टर की ड्यूटी या तो दिन में लगाई जा सकती है या फिर रात को। उन्होंने कहा कि हरिपुर सीएचसी ( Haripur CHC) में जल्द ही डाक्टरों की नियुक्ति कर दी जाएगी। सरकार जल्द ही डॉक्टरों की नियुक्ति लिस्ट जारी करने वाली है। आशा है कि इसमें सीएचसी हरिपुर को भी डॉक्टर मिलेंगे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है