Covid-19 Update

393
मामले (हिमाचल)
189
मरीज ठीक हुए
05
मौत
2,36,657
मामले (भारत)
67,34,088
मामले (दुनिया)

अपनों को कोरोना से सुरक्षित करने के लिए इन्होंने गांव के बाहर डाला डेरा

कइयों ने संस्थागत क्वारंटाइन को दी तरजीह, किसी ने क्वारंटाइन को गांव से बाहर किराए पर लिया मकान

अपनों को कोरोना से सुरक्षित करने के लिए इन्होंने गांव के बाहर डाला डेरा

- Advertisement -

मंडी। कोरोना संकट के बीच कुछ लोग ऐसे हैं जो अपने साथ-साथ दूसरों की जान को भी खतरे में डालते हैं तो वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो समझदारी दिखाते हैं और अपने साथ सबका बचाव करते हैं। ऐसी ही सूझबूझ का परिचय दिया है मंडी जिला (Mandi District) के परखरैर पंचायत के घिंडी गांव की सोमा देवी ने। ‘मैंने अपने बच्चों को लिए गांव के बाहर ही एक खाली मकान किराए पर ले लिया है…. ताकि कमबख्त कोरोना की आशंका भी हमारे गांव तक ना पहुंचे।’ ये बताते हुए मंडी जिला के परखरैर पंचायत के घिंडी गांव की सोमा देवी की आवाज में अपने परिवार की सुरक्षा व समाज के प्रति जिम्मेदारी का गहरा बोध की अंतर्ध्वनि साफ सुनाई दे रही थी।


सोमा देवी ने बताया कि उनकी बेटी हेमानी चंडीगढ़ (Chandigarh) में एक कंपनी में जॉब करती है, उसके साथ गांव के ही रिश्तेदारों के दो और बच्चे भी चंडीगढ़ में काम करते हैं। वे तीनों हिमाचल सरकार की मदद से एचआरटीसी बस सेवा से 4 मई को चंडीगढ़ से गांव लौटे हैं। कोरोना वायरस के खतरे के बीच 14 दिन का होम क्वारंटाइन जरूरी था। ऐसे में हमने तय किया कि बच्चों के गांव में प्रवेश से पहले गांव से बाहर ही 14 दिन के होम क्वारंटाइन का कोई ऐसा इंतजाम किया जाए, जिससे वे भी सुविधा में रहें और घर-परिवार व समाज को भी किसी प्रकार की कोई खतरे की आशंका ना हो। गांव के ही एक व्यक्ति का मकान गांव से कोई 4 चार किलोमीटर दूर खाली पड़ा था। हमने उनसे इसे कुछ दिनों के लिए किराए पर देने का आग्रह किया और उन्होंने हामी भी भर दी। सोमा देवी के परिवार की आर्थिक हालात बहुत अच्छे नहीं हैं, लेकिन उनका कहना है कि पूरे समाज की भलाई के लिए ये कोई कीमत बड़ी नहीं है। वे बताती हैं कि 6 कमरों के इस मकान में रहने लायक सभी सुविधाए हैं। वे तथा अन्य दो बच्चों के माता-पिता सुबह-शाम का भोजन बच्चों को पहुंचा देते हैं। पंचायत भी इसमें उनकी मदद कर रही है।

इन जागरूक लोगों ने स्वेच्छा से चुना संस्थागत क्वारंटाइन

वहीं, मुरहाग पंचायत के नरेश, घनश्याम और उनके दोस्त ने अपने घर व गांव वालों की सुरक्षा के लिए घर जाने की बजाए एहतियातन पंचायत के संस्थागत क्वारंटाइन को स्वेच्छा से तरजीह दी। मुरहाग पंचायत के औहण गांव के चमन ठाकुर बताते हैं कि उन्होंने 6 मई को अपने भतीजों को गुड़गांव से लाने को टैक्सी भेजी थी। उनके पहुंचने से पहले ही पंचायत और उपमंडल प्रशासन को इत्तला कर दी थी और उनकी संस्थागत क्वारंटाइन में रहने की इच्छा के बारे में भी अवगत करवा था। प्रशासन और पंचायत प्रतिनिधियों ने पंचायत के गैस्ट हाउस में उनके रुकने की अच्छी व्यवस्था कर दी। उनके लिए राशन, गैस व चूल्हे का का प्रबंध कर दिया। चमन ठाकुर का कहना है कि गांव से दूर रह कर उनके भतीजों ने संस्थागत क्वारंटाइन में रहने का विकल्प चुना ताकि पूरे परिवार को क्वारंटाइन में न रहा ना पड़े और पूरा समुदाय भी कोरोना संक्रमण के किसी भी खतरे से बचा रहे। गौरतलब है कि मंडी जिला में बाहरी राज्यों से आए व्यक्तिों के साथ साथ उनके घर में रह रहे सभी सदस्यों को भी 14 दिन होम क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य किया गया है। प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के खतरे से पूरे समुदाय-समाज की सुरक्षा के लिए यह फैसला लिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

डीसी ऋग्वेद ठाकुर का कहना है कि मंडी जिला में कई परिवारों के होम क्वारंटाइन के बहुत अच्छे उदाहरण सामने आए हैं। ऐसे अनेक परिवार हैं अन्यों के लिए मिसाल बने हैं। कइयों ने स्वेच्छा से संस्थागत क्वारंटाइन का विकल्प चुना है, तो किसी ने क्वारंटाइन रहने को गांव से बाहर कोई व्यवस्था की है। इस तरह अपने घर-परिवार व समुदाय-समाज की सुरक्षा के लिए दूरी बना कर रखने के उनके प्रयास सरहानीय और अन्यों के प्रेरणादायी हैं। पंचायती राज संस्थान भी प्रशंसा के पात्र हैं जो अपने स्तर पर ऐसे परिवारों की भरपूर मदद कर रहे हैं। प्रशासन ने जिला में 500 के करीब संस्थागत क्वारंटाइन केंद्र बनाए हैं, इनमें 2200 से अधिक लोगों के रहने की सुविधा है। संकट के समय में जरूरी सावधानियों का ठीक तरीके से पालन करने में एक दूसरे की मदद कर हम इस लड़ाई में विजयी होंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

जिम संचालक बोले- या तो अनुमति दें Govt या फिर राहत पैकेज का करें ऐलान

Big Breaking: सिराज में दो दिव्यांग भाईयों को बेरहमी से पीटा,अपशब्द कहे,मारे-मारे फिर रहे

Big Breaking: दिल्ली से लौटा चालक निकला Corona Positive ,ज्वालामुखी से रखता है ताल्लुक

First Hand: ऑरेंज अलर्ट के बीच राजधानी Shimla में धराशायी हुई 6 मंजिला बिल्डिंग

MP में राजनीतिक घमासान के बीच Jyotiraditya Scindia ने ट्विटर प्रोफाइल से हटाया BJP,अटकलें तेज

हिमाचल में आठ से नहीं खुलेंगे Hotel, होटलियर्स ने कह दी है बड़ी बात

India-China Border Dispute: चुशूल के लिए रवाना हुए भारतीय सैन्य अधिकारी , कुछ देर में होगी बैठक

Pakistan के पूर्व Home Minister पर अमेरिकी पत्रकार ने लगाया Rape का आरोप

Corona ने तोड़ा रिकार्डः देश में 24 घंटे में सबसे ज्यादा मौतें, दुनिया में छठे नंबर पर पहुंचा India

बड़ी चूकः Bus में सिरमौर अपने गांव पहुंच गया युवक, हरियाणा के नारायणगढ़ में निकला Positive

Corona Update: हिमाचल में 8 माह की मासूम सहित आज 10 पॉजिटिव, दस ही मरीज हुए ठीक

मौसम : Shimla सहित प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश-ओलावृष्टि ने मचाई तबाही, पहाड़ों पर बर्फबारी

ब्रेकिंगः Himachal में वेंटिलेटर खरीद को लेकर आए गुमनाम पत्र मामले में FIR

Dalai Lama की उपस्थिति में उनके निवास स्थान में Buddha Purnima पर बोधिचित्त समारोह आयोजित

Kangra में बेटे के बाद माता और पिता भी निकले Corona पॉजिटिव, दो मरीज हुए ठीक

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

स्कूली छात्र-छात्राओं को अटल स्कूल वर्दी योजना के तहत School Bags की खरीद को मंजूरी

Breaking: एसओएस की 10वीं व जमा दो कक्षा के प्रैक्टिकल की Datesheet जारी,  यहां पर पढ़ें पूरी खबर

निजी स्कूलों को राहत,पहली जून से ले सकेंगे Fees, नहीं लगेगा कोई जुर्माना

Breaking: लॉकडाउन के बीच हिमाचल के Schools में 15 जून तक छुट्टियां घोषित, ये रहा अहम कारण

ब्रेकिंगः 12वीं Geography और 10वीं वाद्य संगीत व गृह विज्ञान परीक्षा की तिथि घोषित

लाॅकडाउन के बीच Employment का मौका, Himachal में एक कंपनी भरने जा रही है 800 से ज्यादा पद

CBSE: 15,000 से अधिक सेंटरों में आयोजित होंगी 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाएं, जानिए डिटेल

ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं की बची हुई परीक्षाएं 1 जुलाई से 14 जुलाई तक

CBSE: अपने ही स्कूलों में बचे हुए सब्जेक्ट्स के Exam देंगे छात्र; जानें कब आएगा रिजल्ट

D.EL.ED CET- 2020 की तिथि घोषित, 21 मई से करें ऑनलाइन आवेदन

सरकार के आदेशों का कड़ाई से पालन करें Private School वरना होगी कड़ी कार्रवाई

CBSE: 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में स्‍टूडेंट्स को पहनना होगा Mask; जानिए नए निर्देश

CBSE ने जारी की 10वीं-12वीं की Pending Exams की डेटशीट, जाने कब शुरू होंगे पेपर

12वीं Geography, कंप्यूटर साइंस और वोकेशनल परीक्षा को लेकर Board का बड़ा फैसला-जानिए

अर्धवार्षिक व प्री बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर मिलेंगे Practical के अंक


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है