Covid-19 Update

11908
मामले (हिमाचल)
7457
मरीज ठीक हुए
113
मौत
5,351,723
मामले (भारत)
30,833,232
मामले (दुनिया)

हक को हल्लाबोलः आंगनबाड़ी-Mid-Day मिल कर्मचारियों का प्रदर्शन

हक को हल्लाबोलः आंगनबाड़ी-Mid-Day मिल कर्मचारियों का प्रदर्शन

- Advertisement -

शिमला। बजट में कटौती और सुविधा के अभाव को लेकर शुक्रवार को प्रदेशभर के आंगनबाड़ी वर्कर्ज हेल्पर्ज और मिड-डे मील कर्मचारी सड़कों पर उतर आए। इस दौरान केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला गया। अखिल भारतीय आंगनबाड़ी वर्कर्ज एवं हेल्पर्ज फेडरेशन के आह्वान पर की गई एक दिन की हड़ताल के चलते आज प्रदेश भर की आंगनबाड़ियों में कोई कामकाज नहीं हो पाया। वहीं मिड-डे मील वर्कर्ज के हड़ताल पर जाने कारण न तो बच्चों को खिचड़ी मिल पाई और न ही दूसरा कोई कार्य हुआ।


  • शिमला में जुटे प्रदेशभर के कर्मी,  नहीं बन पाई खिचड़ी
  • केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे
  • प्रदेश सरकार से गुहार, वित्तीय लाभ मांगें

अपनी मांगों पर केंद्र सरकार द्वारा ध्यान न देने से नाराज इन कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। उनका आरोप लगाया कि केंद्र सरकार इन योजनाओं को बंद करने का षडयंत्र रच रही है। सिटी नेता विजेंद्र मेहरा ने कहा कि केंद्र सरकार ने एक षड्यंत्र के तहत आंगनबाड़ी वर्कर्ज का बजट 18 हजार करोड़ से घटाकर 8 हजार करोड़ कर दिया है, जबकि मिड डे मील का बजट 13 हजार करोड़ से घटाकर 9 हजार करोड़ कर दिया।

उन्होंने मांग की है कि इन कामगारों को वर्कर्ज का दर्जा दिया जाए, ताकि इन्हें वह सभी लाभ मिल सके जो एक दिहाड़ीदार को मिलते हैं। अन्य राज्यों की तर्ज पर अपने स्तर पर इन कार्यकर्ताओं को वित्तीय लाभ दें, ताकि इनके जीवन स्तर में भी सुधार हो सके। आंनबाड़ी वर्कर्ज एवं हेल्पर्ज यूनियन की राज्य अध्यक्ष खीमी भंडारी ने कहा कि 35 वर्ष काम करने के बाद कर्मचारी खाली हाथ घर जा रही हैं। उन्होंने मांग की है कि राज्य सरकार के मानदेय में बढ़ोतरी करनी चाहिए और ग्रेच्युटी व पेंशन का भी प्रावधान करना चाहिए। उनका कहना था कि महाराष्ट्र व हरियाणा में सेवानिवृत्ति की आयु 65 वर्ष है। पेंशन व ग्रेच्युटी भी दी जा रही है, लेकिन हिमाचल में सिर्फ क्रमशः 3400 रुपए व 1800 रुपए मानदेय दिया जा रहा है। इस महंगाई के दौर में एक आंगनबाड़ी वर्कर्ज एवं हेल्पर्ज कैसे अपने परिवार का गुजारा कर सकती है। ऐसे में उनकी मांग है कि महाराष्ट्र और हरियाणा की तर्ज पर पहल करते हुए न्यूनतम वेतन देना चाहिए। प्रदर्शन के दौरान वक्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और चेतावनी दी कि अगर सरकार ने उनकी मांगों को नहीं माना तो यूनियन फरवरी या फिर मार्च में फिर से उग्र प्रदर्शन करेगी।

हमीरपुर। आंगनबाड़ी वर्करों ने हमीरपुर बाजार में रोष रैली निकाली और गांधी चौक पर विशाल धरना प्रर्दशन किया। इस अवसर पर काफी संख्या में आंगनबाड़ी वर्करों ने प्रदेश सरकार के विरोध में नारे लगाए। रैली के दौरान आंगनबाड़ी वर्कर सीमा और रंजना ने बताया कि बहुत ही कम मानेदय दिया जाता है, और काम बहुत ज्यादा लिया जाता है। वहीं सीटू जिला सचिव जोगिंद्र कुमार ने बताया कि राज्य व केंद्र सरकार आंगनबाड़ी वर्करों को न्यूतनम वेतन तक नहीं दे रही है जिससे आंगनबाड़ी वर्करों में गहरा रोष है। 

जोगिंद्रनगर। अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सीटू से संबंधित आंगनबाड़ी वर्कर्स व हेल्पर्स यूनियन, आशा वर्कर्स यूनियन से जुड़ी महिलाओं ने शहर भर में जोरदार प्रदर्शन किया। इस मौके पर हिमाचल किसान सभा के राज्य महासचिव कुशाल भारद्वाज ने उनकी अगुवाई की। आंगनबाड़ी वर्कस ने केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। साथ ही एसडीएम के जरिए केंद्र व प्रदेश सरकार को ज्ञापन सौंपा गया।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

ये हैं दुनिया के 5 सबसे जानलेवा जीव: लिस्ट में शामिल है मक्खी और मच्छर का भी नाम, जानें

अटल टनल रोहतांग में 4G नेटवर्क की सुविधा का Trial सफल; जानें कितनी मिलेगी स्पीड

#Corona_Update: हिमाचल में आज 286 नए मामले, पांच लोगों ने गंवाई जान

Big Breaking: शिमला में कंडा जेल का कैदी पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार

Rohru: बर्फबारी में बिजली-पानी और सड़कों को नहीं होगा नुकसान, प्रदेश सरकार निकालेगी स्थायी हल

HPU से करनी है PhD तो तीन अक्टूबर तक है मौका; 66 सीटों के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

Una: गगरेट में धरे रेत तस्कर, पंजाब जा रहे पांच टिप्परों से वसूला 75 हजार का जुर्माना

सोलन में बैचवाइज प्रशिक्षित स्नातक अध्यापकों की Counseling 26 को

#Himachal में अब साहसिक पर्यटन गतिविधियां होंगी सुरक्षित, जाने क्या है सरकार का प्लान

जितने में #Reliance जैसी 6 कंपनियों को खरीदा जा सके उतना तो भारत सरकार पर कर्ज है; पढ़ें रिपोर्ट

30 साल की सेवा के बाद आखिरी सफर पर निकला #INS_Viraat: इसके लोहे से बनेंगी मोटरबाइक्स

शोषण कर रही है Fourlane निर्माण कर रही कंपनी, ठेकेदार यूनियन करेगी अब नंगा

‘ऑरो-स्कॉलर’की हिमाचल प्रदेश में शुरुआत, APP के माध्यम से जुड़ेंगे शिक्षक और छात्र

पालमपुर : हिमाचल के पर्वतों में मिला कैंसर का इलाज, वैज्ञानिकों ने खोजा एंजाइम

IPL 2020: आज होगा क्रिकेट के महासंग्राम का आगाज; मुंबई-चेन्नई के बीच उद्घाटन मुकाबला

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी की काउंसलिंग स्थगित- जाने कारण

#HPBose_ Dharamshala: बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट, वेबसाइट में देखें

बड़ी खबर: हिमाचल में सितंबर के बाद स्कूल खुलने के संकेत; छात्रों के #Syllabus को लेकर भी बड़ा फैसला

Himachal: तकनीकी शिक्षा बोर्ड विद्यार्थियों को अगली कक्षा में करेगा प्रमोट, इनकी होंगी परीक्षाएं

मार्च की 10वीं और 12वीं SOS की Practical परीक्षा में Absent छात्रों को विशेष अवसर

#HPBose: D.El.Ed. CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथियां घोषित

#HPBose: बड़ा फैसला- SOS के तहत जमा दो मेडिकल व नॉन मेडिकल की हो सकेगी पढ़ाई

#HPBose : शिक्षा बोर्ड ने इन परीक्षाओं की ऑनलाइन आवेदन तिथि बढ़ाई



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है