Covid-19 Update

36,659
मामले (हिमाचल)
28,754
मरीज ठीक हुए
579
मौत
9,266,697
मामले (भारत)
60,719,949
मामले (दुनिया)

BJP-Congress के सताए नेताओं को आजाद मंच से जुड़ने का निमंत्रण

BJP-Congress के सताए नेताओं को आजाद मंच से जुड़ने का निमंत्रण

- Advertisement -

शिमला। चुनावी आहट के साथ ही सियासी गलियारों में भी हलचल तेज हो गई है। शिमला में रविवार को राष्ट्रीय आजाद मंच पार्टी (राम) ने खुले मंच से बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं को पार्टी ज्वाइन करने के लिए सीधा आंमत्रण दे दिया। राष्ट्रीय आजाद मंच ने ऐलान किया है कि वह विधानसभा चुनाव में उतरेंगे और इस चुनाव में उनका चेहरा कौन होगा, इसका फैसला 15 दिन में हो जाएगा।

शिमला में प्रेस कान्फ्रेंस में बोले पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, जनता को देंगे तीसरा विकल्प

Press Conferenceराम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सत्यव्रत भारतीय ने यहां प्रेस कान्फ्रेंस में इसका ऐलान किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल में वे कुछ नेताओं के संपर्क में हैं और जल्द ही सारी स्थिति सामने आ जाएगी। उनका कहना था कि हिमाचल में कांग्रेस और बीजेपी ने अपनी-अपनी बारी तय कर रखी है और जनता के समक्ष तीसरा विकल्प नहीं है। वे प्रदेश में जनता के समक्ष तीसरा और मजबूत विकल्प देंगे। सत्यव्रत ने कहा कि प्रदेश में उनके साथ जो लोग जुड़ेंगे, वे इन्हीं दलों से होंगे। क्योंकि यहां पर ये ही दो दल सत्ता में रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन दलों में जिन नेताओं के घुटन महसूस हो रही है, उनके लिए राम पार्टी के दरवाजे खुले हैं।

हिमाचल में अगली सरकार बनाने के लिए सबका सहयोग जरूरी

उनका कहना था कि जिन नेताओं को लगता है कि अपनी पार्टी में उनकी सुनवाई नहीं हो रही, वे भी इस दल में आ सकते हैं। राम पार्टी के अध्यक्ष ने दावा किया कि हिमाचल में अगली सरकार उनके सहयोग के बिना नहीं बनेगी। वे मजबूती के साथ चुनाव में उतरेंगे और जनता के सहयोग से विधानसभा में दस्तक देंगे। उनका कहना था कि हिमाचल के युवाओं को रोजगार के लिए बाहर न जाना पड़े, इसका प्रबंध किया जाएगा। इसके साथ-साथ राज्य की वन संपदा आधारित उद्योग स्थापित किए जाएंगे और आईटी पर आधारित इकाइयां भी यहां स्थापित की जाएगी।

लोगों को सरकार पर नहीं विश्वास

राम पार्टी अध्यक्ष सत्यव्रत भारतीय ने कहा कि शिमला जिला के कोटखाई में छात्रा के साथ जो हुआ है, वह निंदनीय है और सरकार को जल्द से जल्द दोषियों को सजा दिलानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद यहां जो नजारा यहां देखा गया, उससे लगता है कि लोग कितने गुस्से में हैं। उनका कहना था कि लोगों के गुस्से से लगता है कि उन्हें सरकार पर विश्वास नहीं रहा। इसलिए सीबीआई जांच की मांग हो रही है। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है