शिमला से आरट्रैक शिफ्ट न करने को लेकर आनंद शर्मा ने रक्षा मंत्री को लिखा पत्र

शिमला से आरट्रैक शिफ्ट न करने को लेकर आनंद शर्मा ने रक्षा मंत्री को लिखा पत्र

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारतीय सेना हिमाचल प्रदेश के शिमला में स्थित अपने ट्रेनिंग कमांड हेडक्वार्टर (ARTRAC) को उत्तर प्रदेश के मेरठ में शिफ्ट करने की योजना बना रही है। इसी मामले को लेकर कांग्रेस नेता आनंद शर्मा (Anand Sharma) ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा है। उनका कहना है कि ट्रेनिंग कमांड हेडक्वार्टर को बिना किसी स्पष्ट आवश्यकता और औचित्य के शिफ्ट किया जा रहा है। आनंद शर्मा ने रक्षा मंत्री से हेडक्वार्टर को शिमला में ही बनाए रखने का आग्रह किया है।


यह भी पढ़ें :-अनंतनाग: शहीदों को श्रद्धांजलि, सीआरपीएफ के डीजी गृह मंत्रालय पहुंचकर देंगे हमले की जानकारी

इस मामले को लेकर सेना से जुड़े सूत्रों का कहना है कि ऐसी योजना इसलिए बनाई जा रही है ताकि खर्च और मुख्यालय से पहाड़ी लोकेशन तक यात्रा करने में होने वाले समय को कम किया जा सके। सेना द्वारा यह कदम कई स्तरों पर किए जा रहे पुनर्गठन का हिस्सा है। मुख्यालय को बेहतर बुनियादी ढांचे के लिए शिमला (Shimla) से बाहर ले जाने की जरूरत है, क्योंकि पुनर्गठन से कमांड की भूमिका में विस्तार होगा। ट्रेनिंग कमांड हेडक्वार्टर के लिए मेरठ बेहतर होगा, क्योंकि यह एक्सप्रेस हाईवे से जुड़ा है और यहां तीव्र रेल कॉरिडोर भी तैयार किया जा रहा है।

आरट्रैक का गठन एक अक्टूबर 1991 को किया गया था। उस समय इसकी स्थापना मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के महू में की गई थी। 31 मार्च, 1993 को इसे शिमला शिफ्ट कर दिया, तबसे वर्तमान तक आरट्रैक शिमला में ही कार्य कर रहा है। इसका मुख्य कार्य जवानों की ट्रेनिंग को अधिक प्रभावशाली बनाना और सेना प्रशिक्षण और युद्ध से जुड़ी विभिन्न नीतियां बनाना है। आरट्रैक की स्थापना से पहले इस ऐतिहासिक भवन में 1864 से 1939 तक भारतीय सेना का मुख्यालय रहा। प्रथम और द्वितीय विश्व युद्ध (First and Second World War) के दौरान सभी ऑपरेशनों की योजना और संचालन यहीं से हुआ। 1947 में स्वतंत्रता के बाद भारतीय सेना की पश्चिमी कमान बनाई गई और उसका मुख्यालय 1954 से 1985 तक यहीं रहा। 1965 और 1971 के भारत-पाक युद्धों की योजना और संचालन यहीं से हुआ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

सीएम जयराम बोले- कैदियों के प्रति समाज की धारणा बदलने की जरूरत

तेजस में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री बने राजनाथ सिंह

रेड अलर्ट : मायानगरी मुंबई में आज भारी बारिश की चेतावनी, स्कूल-कॉलेज बंद

हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के CJ समेत 4 जज की हुई सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति, सोमवार को लेंगे शपथ

एचपीयू ने स्नातक प्रथम वर्ष में फेल हुए 21 हजार विद्यार्थियों को दी राहत, ले सकेंगे दाखिला

युवा कांग्रेस ने सुधीर को दी प्यार भरी सलाह,अपने "उपचुनाव" की करो तैयारी

रामलाल ठाकुर के जख्म हुए हरे, एचपीसीए को लेकर उठाए अब ये सवाल

सत्ती बोले, "सुधीर की हरकतें" बता रही हैं कांग्रेस का हाल

रिजल्ट अपग्रेड नहीं किया तो एनएसयूआई सड़कों पर करेगी आंदोलन

इस दिन होगी टैट की परीक्षाएं, शिक्षा बोर्ड ने जारी किया शैड्यूल  

पूजा के धूप से मैकेनिक की दुकान में लगी आग, दो युवक झुलसे

नाहन: अवैध कब्जों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, तीसरे दिन भी टूटे कई आशियानें

वीरभद्र सिंह की हालत स्थिर, पूरी तरह से स्वस्थ होने में लगेंगे कुछ दिन

सुंदरनगर: कलखर में खाई में लुढ़की कार, पेड़ से अटकी

सोलन में बोले भागवत- संघ कर्म के जरिए लोगों को धर्म से जोड़ने का काम करता है

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है