सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार के खिलाफ अनिल शर्मा ने बीजेपी की शिकायत साइबर क्राइम से की

सीएम से बोले: 'आप इस्तीफा मांगें तो मैं तुरंत दे दूंगा, लिखे तीन पत्र

सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार के खिलाफ अनिल शर्मा ने बीजेपी की शिकायत साइबर क्राइम से की

- Advertisement -

लेखराज धरटा/ शिमला। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा (Anil Sharma) ने अपने खिलाफ सोशल मीडिया (Social Media) पर किए जा रहे कथित दुष्प्रचार के मामले में साइबर क्राइम में शिकायत की है। उन्होंने हिमाचल अभीअभी से एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू (Exclusive interview) में कहा कि बीजेपी उन्हें ढाल बनाकर मंडी लोकसभा सीट (Mandi Lok Sabha Seat) पर भीड़ जुटाना चाहती है। अनिल शर्मा ने बताया कि उन्होंने बीजेपी के खिलाफ साइबर क्राइम में शिकायत कर जांच के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें:  शांता की दो टूक – अब अनिल शर्मा को मंत्री पद छोड़ देना चाहिए

अनिल शर्मा ने स्पष्ट शब्दों में कहा, ‘सोशल मीडिया में मेरे खिलाफ जो भी प्रचार चल रहा है, उसमें बीजेपी के लोगों का ही हाथ है’। उन्होंने कहा कि मंडी में 11 अप्रैल को होने वाली सीएम की जनसभा के लिए बीजेपी वाले ऐसी हरकतें कर रहे हैं। अनिल शर्मा ने कहा, ‘मेरे लिए मेरा बेटा पहले है और बीजेपी बाद में’। अनिल शर्मा ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से दो-टूक शब्दों कहा, ‘आप इस्तीफा मांगें तो मैं तुरंत दे दूंगा। मैं विधायक हूं और विधायक ही रहूंगा’।

रामस्वरूप शर्मा के लिए सीएम का ढाल बनना ठीक नहीं

उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर पर आरोप लगाते हुए कहा कि मंडी संसदीय सीट पर बीजेपी प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा को जिताने के लिए सीएम ढाल बन रहे हैं, जो सही नहीं हैं। आम जनता केंद्र में पांच साल की मोदी सरकार और रामस्वरूप शर्मा के कामकाज के आधार पर वोट देगी। अनिल शर्मा ने कहा कि रामस्वरूप शर्मा (Ram Swaroop sharma) यह बताएं कि पांच साल के कार्यकाल में कितनी उपलब्धियां हासिल की? उन्होंने कहा कि मेरे पिता पंडित सुखराम और बेटा आश्रय शर्मा कभी बीजेपी के सदस्य नहीं थे। फिर भी 2017 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने बीजेपी के लिए काम किया और पार्टी को जीत दिलाई।
सूत्रों के अनुसार, अनिल शर्मा ने एसपी शिमला (SP Shimla) को पत्र लिखकर मामले की जांच को कहा है। उन्होंने सीएम जयराम को भी पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने पूछा है कि जब वे बीजेपी के लिए लोकसभा चुनाव (LokSabha Election) में प्रचार करने से इनकार कर चुके हैं, तो उनके खिलाफ इस तरह की गतिविधियां क्यों हो रही हैं। उन्होंने लिखा, ‘इससे मेरी छवि पर असर पड़ रहा है।’ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती को लिखे एक अन्य पत्र में अनिल शर्मा ने कहा कि बीजेपी के भीतर ही अगर इस तरह की गतिविधि चल रही है तो यह गलत है और पार्टी अध्यक्ष होने के नाते इस पर उन्हें कार्रवाई करनी चाहिए।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group …

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

स्कॉलरशिप घोटालाः पंजाब के नवांशहर और अंबाला में सीबीआई की दबिश

चीन के पड़ोस में रहने वाले ग्यु गांव के बाशिंदों ने नहीं डाले वोट,तहसीलदार गए मनाने

मतदान वाले दिन सुबह 4 बजे यातायात के लिए बहाल हुआ रोहतांग दर्रा

लोकसभा चुनावः तीन बजे तक हिमाचल में 58.15% फीसदी मतदान

लोगों ने किया मतदान का बहिष्कारः मौके पर पहुंचे अधिकारी ने शुरू करवाई वोटिंग

जमाव बिंदु से नीचे तापमान में भी 53% मतदान कर गए ये हिमाचली

चुनाव आयोग को ठेंगा दिखाकर बेच रहा था शराब, ठेका हुआ सील

देश के पहले मतदाता 102 वर्षीय श्याम सरन नेगी ने 32वीं बार डाला वोट

दिल्ली से वोट डालने आ रहे दंपति हादसे का शिकार,पति की मौत पत्नी अस्पताल में

परिजन गए थे वोट डालने, रोहड़ू की छात्रा ने सुंदरनगर में लगा लिया फंदा

शिक्षा नियामक आयोग के चेयरमैन केके कटोच को क्लीन चिट

ठियोग में चुनाव ड्यूटी के दौरान होमगार्ड के जवान की हार्ट अटैक से मौत 

मतदान से पहले वीरभद्र बोले, ये तो सत्ता का अहंकार बोलता है

कांग्रेस-बीजेपी सहित 45 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला कल

शिक्षक पर रेप का आरोपः गुड़िया प्रकरण में कोटखाई थाना फूंकने वालों में था शामिल 

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है