Covid-19 Update

393
मामले (हिमाचल)
189
मरीज ठीक हुए
05
मौत
2,36,657
मामले (भारत)
67,34,088
मामले (दुनिया)

आदेशों की अनुपालना करने में ढील पर हाईकोर्ट तल्ख, सीएस को दिए यह आदेश

सरकारी विभागों के आदेशों की अनुपालना करने में ढील बरतने को घटियापूर्ण करार दिया

आदेशों की अनुपालना करने में ढील पर हाईकोर्ट तल्ख, सीएस को दिए यह आदेश

- Advertisement -

शिमला। हाईकोर्ट ने सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा कोर्ट के आदेशों की अनुपालना करने में ढील बरतने को घटियापूर्ण करार दिया। राज्य सरकार की कार्यशैली पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए प्रदेश के मुख्य सचिव को आदेश जारी किए कि संबंधित विभागों को इस बाबत जरूरी निदेश जारी करें कि न्यायालय द्वारा पारित आदेशों की अनुपालना समय पर हो, ताकि वादियों को दोबारा कोर्ट के आदेशों की अनुपालना करवाने हेतु बार-बार कोर्ट का दरवाजा न खटखटाना पड़े।


यह भी पढ़ें: अनुराग का ऐलानः दशहरे से देश में शुरू होगा फेसलेस आईटीआर कार्यक्रम

 

प्रदेश हाईकोर्ट ने न्यायालय के आदेशों की अनुपालना न करने पर पीडब्ल्यूडी के प्रधान सचिव जगदीश चंद्र को न्यायालय के समक्ष तलब करते हुए यह टिप्पणी की। न्यायाधीश तरलोक सिंह चौहान ने सचिव पीडब्ल्यूडी को आदेश दिए कि वह 2 सप्ताह के भीतर हाईकोर्ट द्वारा पारित निर्णय की अनुपालना करें अन्यथा उन्हें व्यक्तिगत तौर पर हाईकोर्ट के समक्ष अवमानना के चार्ज के लिए पेश होना होगा।


न्यायालय के आदेशों की प्रतिलिपि प्रदेश के मुख्य सचिव को भेजने के आदेश जारी किए हैं तथा उन्हें यह निर्देश जारी किए हैं कि वह सभी संबंधित विभागों को इस बाबत निर्देश जारी करें कि वादियों को अपने मामले में पारित निर्णय की अनुपालना करवाने के लिए हाईकोर्ट के समक्ष बार-बार न जाना पड़े। न्यायालय ने हालांकि यह भी स्पष्ट किया कि यह मामला राज्य सरकार के ऊपर बड़ी कॉस्ट डालने का बनता है। मगर न्यायालय ने राज्य सरकार को इस बार छूट देते हुए केवल भविष्य के लिए सतर्क रहने की चेतावनी दी है। याचिका में दिए तथ्यों के अनुसार प्रार्थी ने तत्कालीन प्रशासनिक प्राधिकरण के समक्ष वर्ष 2008 से पहले मामला दायर किया था।

पहली बार ट्रिब्यूनल भंग होने के बाद मामला हाईकोर्ट के लिए स्थानन्तरित हो गया। हाईकोर्ट ने प्रार्थी की याचिका को मंजूर करते हुए आदेश जारी किए थे कि प्रार्थी को लिपिक पद का वेतन 1 दिसंबर 1997 से 28 फरवरी 2004 तक अदा किया जाए। इसका भुगतान 31 जुलाई 2012 तक किया जाए। अन्यथा प्रार्थी को 9 फीसदी ब्याज सहित देय वेतन का भुगतान करना होगा। एकल पीठ द्वारा पारित इस निर्णय को हालांकि राज्य सरकार ने अपील के माध्यम से खंडपीठ के समक्ष चुनौती दी। लेकिन खंडपीठ ने एकल पीठ के द्वारा पारित फैसले को सही करार दिया। राज्य सरकार द्वारा हाईकोर्ट द्वारा पारित फैसले को सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष याचिका के माध्यम से चुनौती दी गई मगर 13 मई 2015 को राज्य सरकार की याचिका खारिज हो गई। राज्य सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों के बावजूद भी हाईकोर्ट द्वारा पारित निर्णय की अनुपालना करने के लिए कोई कदम नहीं उठाए। प्रार्थी को मजबूरन अवमानना याचिका के माध्यम से पुनः उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाना पड़ा। मामले पर सुनवाई 17 अक्टूबर के लिए निर्धारित की गई है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

India-China Border Dispute: चुशूल के लिए रवाना हुए भारतीय सैन्य अधिकारी , कुछ देर में होगी बैठक

Pakistan के पूर्व Home Minister पर अमेरिकी पत्रकार ने लगाया Rape का आरोप

Corona ने तोड़ा रिकार्डः देश में 24 घंटे में सबसे ज्यादा मौतें, दुनिया में छठे नंबर पर पहुंचा India

बड़ी चूकः Bus में सिरमौर अपने गांव पहुंच गया युवक, हरियाणा के नारायणगढ़ में निकला Positive

Corona Update: हिमाचल में 8 माह की मासूम सहित आज 10 पॉजिटिव, दस ही मरीज हुए ठीक

मौसम : Shimla सहित प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश-ओलावृष्टि ने मचाई तबाही, पहाड़ों पर बर्फबारी

ब्रेकिंगः Himachal में वेंटिलेटर खरीद को लेकर आए गुमनाम पत्र मामले में FIR

Dalai Lama की उपस्थिति में उनके निवास स्थान में Buddha Purnima पर बोधिचित्त समारोह आयोजित

Kangra में बेटे के बाद माता और पिता भी निकले Corona पॉजिटिव, दो मरीज हुए ठीक

Jai Ram बोले- बेमिसाल रहा Modi सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल, और मजबूत हुआ भारत

हिमाचल में भी आठ से मंदिर-मस्जिद, Hotel-Restaurant खोलने की तैयारी, और भी बहुत कुछ

Delhi Metro तक पहुंचा कोरोना का कहर, 20 कर्मचारी मिले Positive, किसी में नहीं थे लक्षण

First Hand: हिमाचल की दो फैक्ट्रियों में भीषण आग, बेतहाशा नुकसान की आशंका

अनलॉक-1 के बीच 8 से अगर जाना चाहते हैं मंदिर-मस्जिद या Restaurants-Malls तो पढ़ लेना ये रपट

In Depth: सरदार जी की 11 पगड़ियां एक हजार से ज्यादा के मुंह पर चढ़ी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

स्कूली छात्र-छात्राओं को अटल स्कूल वर्दी योजना के तहत School Bags की खरीद को मंजूरी

Breaking: एसओएस की 10वीं व जमा दो कक्षा के प्रैक्टिकल की Datesheet जारी,  यहां पर पढ़ें पूरी खबर

निजी स्कूलों को राहत,पहली जून से ले सकेंगे Fees, नहीं लगेगा कोई जुर्माना

Breaking: लॉकडाउन के बीच हिमाचल के Schools में 15 जून तक छुट्टियां घोषित, ये रहा अहम कारण

ब्रेकिंगः 12वीं Geography और 10वीं वाद्य संगीत व गृह विज्ञान परीक्षा की तिथि घोषित

लाॅकडाउन के बीच Employment का मौका, Himachal में एक कंपनी भरने जा रही है 800 से ज्यादा पद

CBSE: 15,000 से अधिक सेंटरों में आयोजित होंगी 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाएं, जानिए डिटेल

ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं की बची हुई परीक्षाएं 1 जुलाई से 14 जुलाई तक

CBSE: अपने ही स्कूलों में बचे हुए सब्जेक्ट्स के Exam देंगे छात्र; जानें कब आएगा रिजल्ट

D.EL.ED CET- 2020 की तिथि घोषित, 21 मई से करें ऑनलाइन आवेदन

सरकार के आदेशों का कड़ाई से पालन करें Private School वरना होगी कड़ी कार्रवाई

CBSE: 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में स्‍टूडेंट्स को पहनना होगा Mask; जानिए नए निर्देश

CBSE ने जारी की 10वीं-12वीं की Pending Exams की डेटशीट, जाने कब शुरू होंगे पेपर

12वीं Geography, कंप्यूटर साइंस और वोकेशनल परीक्षा को लेकर Board का बड़ा फैसला-जानिए

अर्धवार्षिक व प्री बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर मिलेंगे Practical के अंक


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है