Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,463,254
मामले (भारत)
63,589,301
मामले (दुनिया)

Himachal में विकसित होंगे 100 Park, इन 15 विकास खंडों में हुआ पहले चरण का आगाज

Himachal में विकसित होंगे 100 Park, इन 15 विकास खंडों में हुआ पहले चरण का आगाज

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में हिमाचल (Himachal) के विभिन्न स्थानों पर लगभग 100 पार्क (Park) विकसित किए जाएंगे। इन पार्कों के पहले चरण का शुभांरभ आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के माध्यम से जिला मंडी (Mandi) के गोहर विकास खंड, जिला ऊना के बंगाणा विकास खंड, जिला कुल्लू के बंजार और नग्गर विकास खंड, जिला लाहुल-स्पीति के काजा विकास खंड, जिला कांगड़ा (Kangra) के सुलह और नगरोटा बगवां विकास खंड, जिला सिरमौर के पांवटा साहिब (Paonta Sahib) और पच्छाद विकास खंड, जिला चंबा के भटियात और तीसा विकास खंड, जिला किन्नौर के कल्पा विकास खंड, जिला सोलन (Solan) के कंडाघाट विकास खंड, जिला शिमला के रोहड़ू विकास खंड और जिला हमीरपुर के नादौन विकास खंड में किया गया।

यह भी पढ़ें: Mata Chintpurni और बाबा बालक नाथ के दर्शनों को करना होगा इंतजार, क्या बोले DC-जानिए

वरिष्ठ नागरिकों के लिए पंचवटी योजना का शुभांरभ

सीएम जयराम ठाकुर ने आज प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के वरिष्ठ नागरिकों (Senior Citizens) के लिए ‘पंचवटी योजना’ का शुभांरभ किया। इस योजना में ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से मनरेगा योजना के अंतर्गत आवश्यक सुविधाओं से युक्त सभी विकास खंडों में पार्क और बगीचे विकसित किए जाएंगे।उन्होंने कहा कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों को मनोरंजन के साथ पार्क और बागीचों की सुविधा उपलब्ध करवाना है। वरिष्ठ नागरिकों की स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए मनरेगा (MANREGA), स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) और 14वें वित्त आयोग अभिसरण में न्यूनतम एक बीघा की समतल भूमि पर इन पार्कों और बगीचों को विकसित किया जाएगा। इन पार्कों में आयुर्वेदिक और औषधीय पौधे लगाने के अलावा बुजुर्गो के लिए मनोरजंन के लिए मनोरंजक उपकरण, पैदल पथ और अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी।

यह भी पढ़ें: घर लौट रही महिला का रास्ता रोककर युवक ने किया कुछ ऐसा, Police ने दर्ज किया मामला

सीएम ने कहा कि ये पार्क वरिष्ठ नागरिकों को स्वस्थ और प्रसन्नतापूर्ण जीवन व्यतीत करने में वरदान साबित होंगे। राज्य सरकार (State Govt) लोगों को अधिकतम सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रयासरत है तथा यह योजना इसी दिशा में किया गया एक प्रयास है।सीएम ने कहा कि राज्य की 90 प्रतिशत जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है, इसलिए सरकार का ध्यान ग्रामोन्मुखी नीतियों पर केंद्रीत है, जिससे इन क्षेत्रों का विकास तेज गति से सुनिश्चित हो रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है