मुकेश का वारः गैर हिमाचली अफसरों के हाथों में खेल रहे जयराम

निवेश के बहाने हिमाचल को बेचने के मनसूबों को पहनाया जा रहा अमलीजामा

मुकेश का वारः गैर हिमाचली अफसरों के हाथों में खेल रहे जयराम

- Advertisement -

शिमला। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) ने जयराम सरकार (Jai Ram Govt) पर बड़ा हमला बोला है। मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) गैर हिमाचली अफसरों के हाथों में खेल रहे हैं, जो निवेश के बहाने हिमाचल (Himachal) को बेचने के मनसूबों को अमलीजामा पहना रहे हैं। ऐसे प्रस्तावों के एमओयू हो रहे हैं, जिससे हिमाचल की जमीनों के सौदे हो सकें। वहीं, सरकारी नौकरियों में भी अब गैर हिमाचलियों की दस्तक शुरू हो गई है।


यह भी पढ़ें: एनएच 305 पर भारी लैंडस्लाइड, वाहनों की लगी लंबी कतारें

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि केंद्र सरकार से मदद लाने में राज्य सरकार पूरी तरह विफल हो गई है। राष्ट्रीय राजमार्गों का 65 हजार करोड़ का ऐलान पूरी तरह खटाई में पड़ गया है, जबकि यह विधानसभा चुनाव (Vidhan Sabha Election) से पहले बीजेपी (BJP) का मुख्य वादा था। मगर अब दूसरी बड़ी नाकामी स्मार्ट सिटी (Smart City) प्रोजेक्टों की फंडिंग के मामले में सामने आई है। सरकार ने लगातार दलील दी थी कि फंडिंग 90:10 में होगी, मगर अब सरकार केंद्र के आगे घूटने टेकते हुए 50: 50 पर फंडिंग को मानने जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने फंडिंग पैट्रन को मनवाने के लिए पिछले करीब पौने दो साल से प्रोजेक्टों को खटाई में डाल कर रखा, मगर अब स्टैंड बदला जा रहा है।


मंडी में हवाई पट्टी भी नहीं हुई मंजूर

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि मंडी (Mandi) में बनाई जाने वाली हवाई पट्टी को लेकर भी सरकार फंसी हुई है। पहले सरकार दुहाई दे रही थी कि हवाई पट्टी स्वीकृत हो चुकी है, लेकिन अब मुख्य मंत्री केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर डिफैंस के लिए हवाई पट्टी बनाने की वकालत कर रहे हैं। जबकि वित्तायोग से भी सरकार हवाई पट्टी के लिए पैसा मांग रही है। जाहिर है कि पट्टी भी मंजूर नहीं हुई है।


बजट भाषण की योजनाएं भी तोड़ रहीं दम

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) ने कहा कि वित्तीय मोर्चे पर सरकार पूरी तरह नाकाम हो गई है और केवल कर्जे की बैसाखियां ही उसका एकमात्र सहारा है और हर महीने एक हजार करोड़ का कर्ज सरकार ले रही है। जबकि दुहाई डबल इंजन की सरकार की दी जा रही थी। उन्होंने कहा कि सरकार के झूठ परत-दर-परत खुलते जा रहे हैं। आलम यह है कि सरकार ने अपने पहले बजट डॉक्यूमेंट में लिखा था। सरकार ने बजट भाषण में जिन योजनाओं का उल्लेख किया वे सब दम तोड़ रही हैं। खासतौर पर पर्यटन के क्षेत्र में एडीबी प्रोजेक्ट भी दम तोड़ गया। एडीबी (ADB) का दूसरा चरण ठप है। उन्होंने कहा कि सरकार पौने दो साल के बाद भी पूर्व कांग्रेस (Congress) सरकार को कोस रही है, जबकि अब समय जवाबदेही का है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

करसोग: अकेली लड़की के कमरे में घुसकर बांध दिया मुंह, फिर रात भर लूटी आबरू

अगले साल होंगे 23 सार्वजनिक अवकाश, महिलाओं को मिलेंगी 3 एक्स्ट्रा छुट्टियां

हिमाचली संस्कृति से रूबरू हुए विदेशी, जाखू मंदिर और चायल पैलेस का किया भ्रमण

हो जाओ सावधान ! 14 से 25 वर्ष के लोगों में तेजी से बढ़ रहा है मधुमेह

हिमाचल पुलिस हेडक्वार्टर के पास 6 माह की मासूम को टैक्सी ने रौंदा, दर्दनाक मौत

मां की हत्या पर बेटी बोली, पांच दिन पहले भी बाप ने किया था दराट से वार

सुक्खू की गैरहाजिरी में रजनी ने कही बड़ी बात, गहराई से पढ़ें

हिमाचल की बेटी ऋचा शर्मा बनी स्वाइक वाक मिस इंडिया-2019 की फर्स्ट रनरअप

रोहतांग दर्रे में बर्फीले तूफान में फंसे कई वाहन, बीआरओ ने 14 लोग किए रेस्क्यू

प्रसिद्ध गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण का निधन : दो घंटे स्ट्रेचर पर पड़ा रहा शव, नहीं मिली एंबुलेंस

प्रदेशभर में कांग्रेसियों ने पंडित नेहरू को किया याद

नशे में धुत वाहन चालकों की खैर नहीं, सुंदरनगर पुलिस ने काटे चालान

हरियाणा कैबिनेट विस्तार : छह कैबिनेट और चार राज्य मंत्रियों ने ली शपथ

टारना मार्ग में ट्रक फंसाः यातायात रहा प्रभावित, छात्र व दफ्तर जाने वाले हुए परेशान

अवमानना मामले में राहुल गांधी को राहत, सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार की माफी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है