हिमाचल उपचुनावः अब प्रत्याशियों का चयन बड़ी चुनौती, इनकी होगी अग्रिपरीक्षा

वापसी की तैयारी में रहेगी कांग्रेस, बीजेपी के लिए प्रतिष्ठता बचाए रखना चुनौती

हिमाचल उपचुनावः अब प्रत्याशियों का चयन बड़ी चुनौती, इनकी होगी अग्रिपरीक्षा

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल की दो विधानसभा में होने वाले उपचुनाव (by Election) का बिगुल बज चुका है। तिथि के ऐलान के साथ ही सियासी हलचल भी तेज होगी। उपचुनाव जीतने से पहले बीजेपी और कांग्रेस (BJP And Congress) के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती प्रत्याशियों का चयन है। बीजेपी के सत्ता में होने के चलते धर्मशाला और पच्छाद में प्रत्याशियों की फेहरिस्त लंबी मानी जा सकती है। वहीं, कांग्रेस में भी चुनाव लड़ने के चाह्वानों की कमी नहीं है। अब एक एक कर चुनाव लड़ने के चाह्वानों की दावेदारी सामने आएगी। यह उपचुनाव सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur)  और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर (Kuldeep Rathore) के लिए अग्निपरीक्षा होंगे।


यह भी पढ़ें:  हिमाचल उपचुनावः धर्मशाला व पच्छाद सीटों पर इस दिन डाले जाएंगे वोट

यह भी पढ़ें: सीएम को बुद्धिज्म कल्चरल स्टडी विवि का शिलान्यास करने के लिए किया आमंत्रित

वहीं, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने तो चुनाव तिथि की घोषणा से पहले ही ऐलान कर दिया था कि आचार संहित (Code of Conduct) लगने के बाद हिमाचल चुनाव समिति की बैठक होगी। बैठक में नामों पर चर्चा के बाद उनके तय कर पार्लियामेंट्री  कमेटी की बैठक में रखा जाएगा। बता दें कि यह दोनों उपचुनाव कांग्रेस व बीजेपी के लिए साख का सवाल हैं। साथ ही जयराम सरकार की प्रोग्रेस भी तय करेंगे। एक तरफ जहां उपचुनाव में बीजेपी की जीत जयराम सरकार के अब तक के कार्यकाल के दौरान किए कार्यों पर मुहर लगाएगी। वहीं, विस और लोस चुनाव में मुक्की खाई कांग्रेस वापसी की तैयारी में रहेगी।

 

गौरतलब है कि हिमाचल की दो विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव की घोषणा कर दी गई है। प्रदेश की धर्मशाला (Dharamshala) व पच्छाद (Pachhad) विस सीटों पर 21 अक्टूबर वोट डालें जाएंगे और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी। मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने अरुणाचल प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, असम, गुजरात, कर्नाटक, केरल, एमपी, मेघालय, ओडिशा, पुदुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश के साथ हिमाचल में भी उपचुनावों की घोषणा कर दी है। चुनाव के तारीखों की घोषणा होते ही सिरमौर और कांगड़ा में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। जाहिर है कि धर्मशाला से किशन कपूर और जिला सिरमौर के पच्‍छाद विधानसभा क्षेत्र से सुरेश कश्‍यप के सांसद बनने के कारण यहां उपचुनाव करवाए जा रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

रातों रात सड़क पर कर डाला कब्जा, विभाग ने भेजा नोटिस

शराब की बोतल हाथ में लेकर छात्राओं के सामने टिक टॉक वीडियो बनाता गया कॉलेज कर्मी

मुकेश बोले, धर्मशाला दूसरी राजधानी है,सत्ता में लौटते ही उठाएंगे व्यापक कदम

दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय

टैक्सी चालक हत्या मामले में परिजनों ने मंडी-पठानकोट एनएच पर किया चक्का जाम

पच्छाद उपचुनाव : डैमेज कंट्रोल के लिए खुद प्रचार में उतरे सीएम, बडू साहिब गुरुद्वारे में नवाया शीश

पहले किया हमला फिर लगाई आग, पति-पत्नी की मौत, बेटी गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है