Covid-19 Update

14747
मामले (हिमाचल)
10975
मरीज ठीक हुए
178
मौत
6,193,966
मामले (भारत)
33,684,198
मामले (दुनिया)

BJP की चुनावी हुंकार मगर Leadership पर संशय बरकरार

BJP की चुनावी हुंकार मगर Leadership पर संशय बरकरार

- Advertisement -

गफूर खान/धर्मशाला। त्रिदेव सम्मेलन के साथ ही बीजेपी ने चुनावी हुंकार भर दी है, लेकिन आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी की बागडोर कौन संभालेगा, इस बात पर अभी भी संशय बरकरार है। पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा में कौन चुनावों में बीजेपी का चेहरा होगा, यह रहस्य अभी तक रहस्य ही है। इस रहस्य के चलते बीजेपी का आम कार्यकर्ता कहीं न कहीं असमंजस में दिख रहा है।


  • सरकार बनाने में अहम रोल वाले जिला कांगड़ा में ही ठीक नहीं हालात
  • ऐतिहासिक जीत के दावे, जमीनी हकीकत कुछ और ही

दोनों नेताओं का अपना अपना रसूख है और दोनों के ही वफादारों की अपनी जमात है। इसलिए जब तक स्थिति साफ नही हो जाती तब तक दोनों नेताओं के वफादारों में अंदरखाते चल रही खींचतान जारी रहेगी। इस वक्त हालात यह है कि दोनों नेताओं के वफादारों की जमात में शामिल क्षत्रप एक दूसरे को नीचा दिखाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे। यह स्थिति सुधर सकती है अगर यह साफ़ हो जाए कि चुनावों में बतौर सीएम कौन पार्टी का प्रतिनिधित्व करेगा। लेकिन यह फैसला जल्द होता नजर नहीं आ रहा क्योंकि दोनों नेताओं की जड़ें मजबूत हैं और पार्टी हाईकमान को भी फैसला लेने में वक्त लगेगा।

प्रदेश में सरकार बनाने में जिला कांगड़ा का योगदान सबसे अहम रहता है। 68 सीटों वाली प्रदेश विधानसभा में 15 विधायक अकेले जिला कांगड़ा से ही चुने जाते हैं। इतिहास गवाह है कि जिसने भी जिला कांगड़ा को हल्के में लिया उसे सत्ता से बाहर रहना पड़ा है। 2012 के विधानसभा चुनावों में भी बीजेपी के मिशन रिपीट में कांगड़ा ही रोड़ा बना था। प्रत्याशियों के चयन का खामियाजा बीजेपी को कुछ इस तरह से भुगतना पड़ा था कि जो बीजेपी के अपने थे वही बागी हो गए और चुनाव जीत भी गए। बीजेपी ने जहां सीट गंवाई वहीं उन नेताओं को भी खुद से दूर कर लिया। आगामी चुनावों में भी वही नेता बीजेपी को खासा नुकसान पहुंचा सकते हैं। वर्तमान में भी जिला कांगड़ा की ही बात करें तो बीजेपी की स्थिति कोई ज्यादा सुखद नहीं है। जसवां परागपुर से विधायक विक्रम ठाकुर और देहरा से रविंद्र रवि ही बीजेपी के ऐसे विधायक हैं जो गाहे वगाहे कांग्रेस सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलकर अपनी उपस्थिति का एहसास करवाते रहते हैं।

 सुलह से विपिन परमार और पालमपुर से प्रवीण शर्मा भी चुनाव हारने के बाद भी कहीं न कहीं चर्चा में रहते हैं। इसके अलावा 11विधानसभा क्षेत्रों में बीजेपी नेता सरकार को घेरने की बात तो दूर, अपने ही वजूद को बचाने में जुटे हुए हैं। इन 11 विधानसभा क्षेत्रों में फिलहाल विपक्ष तो कहीं नजर ही नहीं आ रहा। ऐसे में बीजेपी का मिशन 60 प्लस पूरा होगा या नहीं यह अपने आप में एक बड़ा सवाल है। अब जबकि बीजेपी चुनावी वर्ष में आक्रामक मुद्रा में आने की बात कर रही है तो शायद कुछ असर दिखे लेकिन जब तक प्रदेश में शीर्ष नेतृत्व से लेकर विधानसभा क्षेत्र तक चेहरों की तस्वीर साफ नहीं होती तब तक मिशन 60 प्लस खुद को वहम में रखने के अलावा बीजेपी के लिए कुछ भी नहीं होगा

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

KCC Bank निदेशक मंडल के चुनाव कल, 1425 मतदाता करेंगे 51 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

Kangra Corona Update: पीटीसी डरोह के 14 और प्रशिक्षु निकले पॉजिटिव

Himachal: अनुबंध काल पूरा कर चुके सैकड़ों कर्मचारी इस दिन होंगे नियमित, प्रदेश सरकार देगी तोहफा

बड़ी खबरः Statistical Assistant Post Code 821 के लिए ना करें आवेदन- जानिए क्यों

कोरोना राहतः #Himachal में 75 फीसदी से अधिक पहुंचा रिकवरी रेट, आज 259 ठीक

Play Store से हटाए गए 17 खतरनाक ऐप्स: गूगल ने किया बैन, आप भी कर दें डिलीट

8,000 से कम है Salary तो भी खरीद सकेंगे वाहन, महिलाओं के लिए #PNB की स्पेशल स्कीम

#Corona Breaking: हिमाचल में आज चार पुलिस कर्मियों और 22 प्रशिक्षुओं सहित 266 पॉजिटिव

बड़ी खबरः कोरोना संकट के बीच Himachal के अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य बदले

मुकेश अग्निहोत्री बोले, BJP कृषि बिल की आड़ में किसानों को लूटने का कर रही काम

इस देश में हैं Chocolate Museum, अनोखी चीजें देखकर हो जाएंगे हैरान

Mumbai से Delhi जा रहा था इंडिगो का विमान, हवा में हुआ कुछ ऐसा, वापस लौटना पड़ा

#UPSC : असिस्टेंट इंजीनियर सहित 42 पदों पर निकाली Vacancy, जानिए कैसे करें आवेदन

हर रोज करेंगे एलोवेरा का सेवन तो हमेशा निरोगी रहेगा शरीर

#Corona Breaking: हिमाचल में आज राहत के साथ आफत- जानने के लिए पढ़ें खबर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

Himachal में 530 हेड मास्टर और लेक्चरर बने प्रिंसिपल, पर वेतन बढ़ोतरी को करना होगा इंतजार

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने आठ विषयों की TET परीक्षा का Result किया आउट

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि

पहली से आठवीं कक्षाओं के छात्रों की ऑनलाइन परीक्षाओं की Datesheet जारी

#HPBose: डीईएलईडी पार्ट वन और टू का रिजल्ट आउट, कितने सफल, कितने असफल- जानिए

छात्र Online देख सकते हैं SOS की प्रेक्टिकल परीक्षा के अंक , feeding का भी विकल्प

D.El.Ed CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग में आधे अभ्यर्थी ही पात्र

#HPBose: SOS मैट्रिक व जमा दो कक्षाओं की प्रैक्टिकल परीक्षा की डेटशीट जारी

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए

Himachal के सरकारी स्कूलों में नौवीं से 12वीं के #OnlineExam आज से शुरू



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है