Expand

केन्द्र के मानकों में गिरा हिमाचल का स्तर

केन्द्र के मानकों में गिरा हिमाचल का स्तर

- Advertisement -

शिमला। बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता गणेश दत्त ने प्रदेश सरकार पर फिर सवाल खड़े किए हैं। शिमला में उन्होंने सीएम वीरभद्र सिंह पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि वीरभद्र सिंह अपने केसों के मकड़जाल में उलझे हुए हैं, उन्होंने प्रदेश के विकास की चिंता कहा। गणेश दत ने कहा है कि जब- भी कांग्रेस सत्ता में आती है विकास में हिमाचल पिछड़ जाता है और भ्रष्टाचार सिर चढ़कर बोलता है।

बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष गणेश दत्त बोले, सीएम केसों के मकड़जाल में उलझेbjp-logoपार्टी उपाध्यक्षने कहा कि पिछले लगभग 4 वर्षों में केन्द्र के मानकों में हिमाचल प्रदेश निरंतर नीचे की ओर जा रहा है। उन्होंने कहा कि चाहे ग्रामीण विकास में, चाहे शहरी विकास में, स्वास्थ्य क्षेत्र हो अथवा सड़क, परिवहन के मामले में हो, हिमाचल सरकार का ग्राफ सबसे नीचे पहुंच चुका है। यह बड़ी हैरानी का विषय है कि केन्द्र सरकार हिमाचल के विकास के लिए दिल खोलकर धन उपलब्ध करा रही है, लेकिन हिमाचल सरकार उन पैसों को खर्च नहीं कर पा रही है। भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि आगामी चुनावों में कांग्रेस दहाई (डबल फिगर) का आंकड़ा पार नहीं कर पाएगी। भारतीय जनता पार्टी उपाध्यक्ष ने कहा कि अभी हाल ही में  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंडी में हुई परिवर्तन रैली ने वीरभद्र सरकार की नींद उड़ा दी है। सरकार के सभी मंत्री, विधायक, चेयरमैन, वाईस चैयरमैन रैली के असफल होने की चर्चा कर रहे हैं। पार्टी उपाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को रैली की संख्या बताने या रैली के असफल रहने में उनका दुष्प्रचार का कोई फर्क नहीं पड़ता। वह समय था जब लोगों के घरों में टीवी, रेडियो नहीं होते थे, तब लोग गुमराह हो जाते थे, लेकिन आज तो गांव व हर घर में रहने वाला व्यक्ति भी रैली के बारे में पूरी जानकारी रखता है। इसलिए सरकार को रैली की संख्या गिनाने की जगह अपने काम गिनाने चाहिए।

भारतीय जनता पार्टी उपाध्यक्ष ने कहा कि राशन की दुकानों में राशन गायब, स्कूलों में अध्यापक नहीं, अस्पतालों में स्टाफ नहीं, दफ्तरों से अधिकारी गायब रहते हैं तथा आम जन सरकार से परेशान है। मुख्यमंत्री ने अपने सभी मंत्रियों को 15 दिन सचिवालय में बैठने के लिए कहा था। मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों का सचिवालय में बैठने का हिसाब खुद ही दें कि उनके आदेशों का पालन किस-किस मंत्री ने किया है और उन्होंने कितनी बार अपने विभागों की सुध ली है। ऐसा लगता है कि सरकार को कुछ ऐसे तत्व चला रहे हैं, जिनका संबंध माफिया से और भ्रष्ट तत्वों से है। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि वह बताए कि गत लगभग 4 वर्षों में सरकार केन्द्र द्वारा निर्धारित किन मानकों में धराशायी हुई है तथा उसका कारण क्या रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है