×

DGP की दो टूकः डॉक्टर और नर्स से दुर्व्यवहार किया तो होगी कड़ी कार्रवाई

DGP की दो टूकः डॉक्टर और नर्स से दुर्व्यवहार किया तो होगी कड़ी कार्रवाई

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल पुलिस के डीजीपी एसआर मरड़ी (DGP SR Mardi) ने वीडियो संदेश जारी कर दो टूक कहा है कि अगर डॉक्टर व नर्स जो भी कोरोना संक्रमण के इस दौर में फ्रंट लाइन में ड्यूटी दे रहे हैं के साथ दुर्व्यवहार किया तो कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना इमरजेंसी के इस दौर में डॉक्टर व नर्स (Doctor and Nurse) आदि महत्वपूर्ण काम कर रहे हैं। वह भी घर बैठना चाहते हैं, लेकिन ड्यूटी की मजबूरी से सेवा कर रहे हैं। इसलिए लोग उनके साथ किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार ना करें। साथ ही उन्होंने पुलिस कर्मियों के साथ भी बुरा बर्ताव ना करने की अपील लोगों से की है।


यह भी पढ़ें: दो सप्ताह के लिए बढ़ाया जा सकता है Lockdown,पीएम मोदी जल्द लेंगे फैसला

उन्होंने कहा कि हिमाचल में हम लॉकडाउन (Lockdown) को सफल बनाने में कामयाब रहे हैं। इसके लिए हिमाचल की जनता बधाई की पात्र है। हिमाचल में तीन मामले कोरोना पॉजिटिव के नए आए हैं। इसमें दो बद्दी के निजी अस्पताल के पैरामेडिकल स्टाफ के हैं। इन्होंने पीजीआई में दम तोड़ चुकी कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) महिला का इलाज किया था। साथ ही एक ऊना जिला की अंब तहसील का तब्लीगी जमात से जुड़ा मामला है। उन्होंने कहा कि हमें सतर्क रहने की जरूरत है। जैसे-जैसे मामले सामने आ रहे हैं हम चेन काटने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। अब तक 760 तब्लीगी जमात से जुड़े लोग क्वारंटाइन में हैं। हिमाचल में हम कम्यूनिटी स्प्रेड रोकने में कामयाब रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Kangra में 13 अप्रैल से खुलेंगे Veterinary Hospital और डिस्पेंसरी-यह होगा Time

डीजीपी एसआर मरड़ी ने लोगों से भारत सरकार द्वारा लांच की अरोग्य सेतू ऐप डाउनलोन करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि सिंगापुर व दक्षिण कोरिया ने इस ऐप को अपनाया था तो वहां पर कम्यूनिटी स्प्रेड रोकने में कामयाब रहे। ऐप से पता चलता है कि कोई संक्रमित व्यक्ति आपके आसपास तो नहीं। साथ ही आपके आसपास कोई हॉट स्पॉट तो नहीं है। इसके लिए कोरोना वायरस के इस संक्रमण के दौराना क्या क्या सावधानियां बरतनीं  चाहिए यह भी ऐप में है। इसे किसी भी भाषा में डाउनलाउड किया जा सकता है। एप्पल फोन पर एप्पल स्टोर और एंड्राइड फोन पर गूगल प्ले स्टोर पर जाकर ऐप को डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा उन्होंने वेब पोर्टल ईगोट और समाधान को भी डाउनलोड करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि समाधान वेब पोर्टल एचआरडी मंत्रालय का है। इसमें कोई भी व्यक्ति कोरोना वायरस, लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर सुझाव दे सकता है। आपका एक सुझाव बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है