Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,786
मामले (भारत)
117,749,800
मामले (दुनिया)

Padmavati का विरोधः राजपूत सभा की दो टूक, इतिहास से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं

Padmavati का विरोधः राजपूत सभा की दो टूक, इतिहास से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं

- Advertisement -

ऊना। फिल्म पद्मावती  के विरोध की आंच अब हिमाचल में भी धीरे-धीरे तेज हो रही है। ऊना में राजपूत सभा ने दो टूक कहा कि इतिहास के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं होगी। बहरहाल, हिमाचल प्रदेश राजपूत सभा ने निदेशक संजय लीला भंसाली और पद्मावती फिल्म का जोरदार विरोध किया है। राजपूत सभा के प्रधान भूपिंद्र ठाकुर ने कहा कि इतिहास जिसे हमारे पूर्वजों ने अपनी कुर्बानियों से सींचा है, उसको पैसे या मनोरंजन का साधन बनाना निंदनीय है। उन्होंने कहा कि फिल्म पद्मावती में राजपूत वीरांगनाओं के इतिहास से छेड़छाड़ ही नहीं, उसमें नारी जाति का भी अपमान किया गया है। उन्होंने कहा कि महारानी पद्मावती केवल एक फिल्म नहीं बल्कि भारत का गौरवशाली इतिहास है।

पद्मावती पूरे राष्ट्र का गौरव

राजपूतों के गौरवमयी इतिहास के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ राजपूत बर्दाश्त नहीं करेंगे। भूपिंद्र ठाकुर ने कहा कि किसी को हक नहीं कि वो देश के इतिहास से खिलवाड़ कर लोगों की भावनाओं से खेलें। उन्होंने कहा कि रानी पद्मावती न सिर्फ क्षत्रिय समाज की बल्कि पूरे राष्ट्र का गौरव है। उन्होंने कहा कि संजय लीला भंसाली की फिल्म में पद्मावती को पुरुषों के सामने डांस करते हुए दिखाया है, जो बेहद अपमानजनक है। इसको राजपूत समाज कभी सहन नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि कुछ अदृशय शक्तियों के इशारे पर भारत के गौरवशाली इतिहास से छेड़छाड़ की जा रही है। उन्होंने कहा कि फिल्म में उनके किरदार के साथ छेड़छाड़ को कोई भी सच्चा भारतवासी बर्दाश्त नहीं करेगा। सभा के प्रधान के अलावा विजय राणा, यशपाल ठाकुर, अंकित राणा, मोहित राणा, रजत राणा, रोहित रायजादा, काकू, रोहित राणा, बीनू राणा, अरूण राणा, अभिनव रायजादा व अंकुश राणा ने विरोध जताया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है