Expand

illegal ड्राईवः Luxury बसें पकड़ने अलस्सुबह निकले Bali

illegal ड्राईवः Luxury बसें पकड़ने अलस्सुबह निकले Bali

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी/ कांगड़ा। Volvo के नाम पर illegal ड्राईव पर लगाम कसने के लिए आखिर परिवहन मंत्री जीएस बाली को खुद सड़क पर आना पड़ा। पहली मर्तबा होगा कि कोई परिवहन मंत्री अलस्सुबह 3 बजकर 20 मिनट पर इस illegal ड्राईव पर लगाम कसने के लिए सड़क पर उतर आया हो। अल सुबह किसी को इस बात का अंदाज भी नहीं होगा कि सड़क पर आगे स्वयं परिवहन मंत्री बाली मिलेंगे और इस  illegalड्राईव पर शिकंजा कस देंगे। खैर बाली कांगड़ा से अंब तक गए और जहां-जहां दिल्ली से धर्मशाला-मैक्लोडगंज की तरफ आती हुई निजी वॉल्वो और डीलक्स बसें मिलती गई उन्हें पकड़ते चले गए। इस अभियान में कुल आठ बसों के खिलाफ कार्रवाई की गई है, जिनमें से सात बसें जब्त की गई हैं जबकि एक बस से जुर्माना वसूलने के बाद छोड़ दिया गया है। इन आठ बसों में छह वॉल्वो बसें है जबकि दो डीलक्स बसें हैं। पहली बस को उन्होंने अपने घर के बाहर ही पकड़ा जबकि बाकी बसें, अंब तक का सफर तय करने के दौरान उनके हाथ लगी।

  • अवैध तौर पर दौड़ाई जा रही आठ बसें पकड़ीं
  • सात जब्त, एक से जुर्माना वसूल छोड़ा
  • कागजात नहीं थे पूरे, टैक्स चोरी का आरोप
  • सवारियों की सिंगल-सिंगल स्टेटमेंट दर्ज की गई

अपने इस अभियान के बारे में पत्रकार वार्ता के दौरान परिवहन मंत्री जीएस बाली ने बस माफिया के खिलाफ इसे अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई करार दिया है।  gs-bali-2बाली ने कहा कि इस कार्रवाई में सात बसें जब्त की गई हैं और एक बस को जुर्माना वसूलने के बाद छोड़ दिया गया है। इन बसों के ना तो कागजात पूरे थे और टैक्स चोरी का आरोप भी इनपर है। बाली का कहना है कि इन बसों पर एक-एक लाख रुपए तक का जुर्माना लग सकता है। जब्त बसों में से पांच को देहरा जबकि दो को धर्मशाला की निगम की वर्कशाप में खड़ा किया गया है। बाली ने कहा कि यह बसें पूरी तरह से अवैध रूप से चल रही हैं। इन बसों के टूरिस्ट परमिट हैं जो कि बाहरी राज्यों से जारी हुए हैं। आज की कार्रवाई में पकड़ी गई सिर्फ एक बस ही ऐसी है जो कि प्रदेश में रजिस्टर्ड हुई है। इन बसों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक सवारियां या ग्रुप छोड़ने का परमिट प्राप्त है, लेकिन यह बस संचालक निर्धारित नियमों के विपरीत जगह-जगह से सवारियां उतारते और चढ़ाते हैं। बाली ने बताया कि बसों में यात्रा करने वाली सवारियों की सिंगल-सिंगल स्टेटमेंट दर्ज की गई हैं। उससे स्पष्ट हो गया है कि सभी सवारियों ने सिंगल-सिंगल टिकट ले रखी थी। इससे साफ है कि यह कोई टूअर ग्रुप ले जाने वाली बसें ना होकर रोजाना अप-डाउन करने वाली बसें हैं, जोकि बिना किसी रूट परमिट के दौड़ाई जा रही हैं। 

सुबह के वक्त सवारियों को किसी तरह की दिक्कत ना हो इसके लिए बाली अपने साथ खाली बसें भी ले गए थे। उन्हीं बसों में बाद privetमें सवारियों को गंतव्य की तरफ रवाना किया गया। बाली ने कहा कि निगम की बसों का किराया भी इन दोषी बस संचालकों से वसूल किया जाएगा। बाली ने यात्रियों से भी आग्रह किया है कि वह ऐसी बसों में सवार होने से पहले अपनी सुरक्षा और सुविधा के बारे में खुद विचार कर लें, क्योंकि हर जगह से निगम कार्रवाई के दौरान अतिरिक्त बसें उपलब्ध नहीं करवा सकेगा। इस अभियान में बाली के साथ शिमला से लेकर बिलासपुर, ऊना व धर्मशाला के अधिकारी थे। बाली का कहना है कि यह कदम उन्हें मजबूरी में उठाना पड़ा है। क्योंकि उन्होंने पहले ही कहा था कि अगर अधिकारी इस पर लगाम नहीं कस सके तो वह स्वयं सड़क पर उतर आएंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है