×

Budget Session: जयराम सरकार ने 3 साल में खरीदी 1.30 अरब की दवाइयां

शिमला में तीन माह में 31 जनवरी तक पहुंचे डेढ़ लाख से अधिक पर्यटक

Budget Session: जयराम सरकार ने 3 साल में खरीदी 1.30 अरब की दवाइयां

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल स्वास्थ्य विभाग ने बीते तीन साल के दौरान राज्य के विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में रोगियों के लिए एक अरब 30 करोड़ 73 लाख रुपये से अधिक की दवाइयां खरीदी। यहीं नहीं इस अवधि में विभाग ने राज्य के प्रमुख स्वास्थ्य संस्थानों में 17 करोड़ 44 लाख 87 हजार रुपये से अधिक के उपकरण भी खरीदे। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल (Health Minister Dr. Rajiv Saizal) ने आज विधानसभा (Vidhan sabha) में विधायक रामलाल ठाकुर, लखविन्द्र सिंह राणा और रमेश धवाला के सवाल के लिखित जवाब में दी। उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में लोकल कंपनियों की दवाइयों की खरीद पर रोक लगाई गई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि रोगियों को उपलब्ध कराई गई जिन दवाइयों के सैंपल फेल हो गए हैं, उनसे संबंधित फर्मों को आगामी तीन साल के लिए निविदाओं में भाग लेने के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सरकारी अस्पतालों (Govt Hospital) में दवाइयों और स्वास्थ्य उपकरणों की खरीद के लिए नीति निर्धारित है और ये सभी दवाइयों का उपकरण सरकार द्वारा तय रेट कॉन्ट्रैक्ट पर ही खरीदे जा रहे हैं।


यह भी पढ़ें: बजट सत्रः PWD में करुणामूलक आधार पर नौकरी को लेकर क्या बोली सरकार- जाने

 

सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने विधायक विक्रम सिंह जरयाल के एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि वर्ष 2020-21 तक कुल वार्षिक योजना आकार का 9 प्रतिशत आवंटन जनजातीय उप योजना के तहत जनजातीय क्षे़त्रों के विकास के लिए किया जाता रहा है। इसके अतिरिक्त अनुसूचित जाति उपयोजना के तहत योजना आकार का 25 दशमलव एक नौ प्रतिशत आबंटन अनुसूचित जाति के विकास के लिए किया जाता है। शेष योजना परिव्यय गैर जनजातीय क्षेत्रों के लिए रखा जाता है जो जनसंख्या के अनुपात में होता है। परिवहन मंत्री विक्रम ठाकुर (Transport Minister Vikram Thakur) ने विधायक आशा कुमारी के एक सवाल के लिखित जवाब में कहा कि डलहौजी में बस अड्डे के निर्माण के लिए अभी तक जगह का चयन नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि उपयुक्त जमीन का चयन होने और वन स्वीकृति मिलने के बाद ही यहां बस अड्डे (Bus Stand) का निर्माण हो पाएगा।

यह भी पढ़ें: Himachal विस के बाहर धरने पर बैठे मुकेश अग्निहोत्री ने कही यह बड़ी बात

शिमला (Shimla) में पिछले तीन माह में 31 जनवरी तक 1 लाख 82 हजार 567 पर्यटक पहुंचे। इनमें से 9,251 पर्यटक होटल और होम स्टे नारकंडा क्षेत्र में रुके। इस दौरान नारकंडा क्षेत्र में 9 हादसे हुए और 12 लोगों की जान गई। इसमें से 6 स्थानीय और 6 पर्यटक (Tourist) शामिल हैं। हादसों का कारण तेज रफ्तारी और लापरवाही से ड्राइविंग रही। यह जानकारी हिमाचल विधानसभा के बजट सत्र में ठियोग के विधायक राकेश सिंघा द्वारा पूछे प्रश्न के जवाब में सीएम जयराम ठाकुर ने दी है।

 

 

सदन में याद किए दिवंगत सदस्य और पूर्व सदस्य

हिमाचल प्रदेश विधानसभा (Himachal Pradesh vidhan sabha) ने आज बजट सत्र (Budget session) के दूसरे दिन अपने सात पूर्व व एक मौजूदा दिवंगत विधायक सुजान सिंह पठानिया को शोकोद्गार के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित की। इन विधायकों का मॉनसून सत्र और बजट सत्र की अवधि के दौरान निधन हो गया था। पूर्व विधायकों में मेलाराम सावर, रणजीत सिंह बख्शी, कुमारी श्यामा शर्मा, चंद्रसेन ठाकुर, रघुराज, तुलसी राम शर्मा और ओंकार चंद शामिल हैं। सीएम जयराम ठाकुर ने इन दिवंगत विधायकों के निधन पर सदन में शोक प्रस्ताव प्रस्तुत किया। जयराम ठाकुर ने पूर्व सीएम शांता कुमार की पत्नी संतोष शैलजा को भी श्रद्धांजलि अर्पित की। विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार ने सभी दिवंगत सदस्यों द्वारा सदन और प्रदेश के लिए दी गई सेवाओं को याद किया।

विधानसभा अध्यक्ष की सहयोग की अपील

हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने सदन के सभी सदस्यों से सार्थक सहयोग की अपील की है। आज सदन की बैठक आरंभ होते ही विधानसभा अध्यक्ष ने उम्मीद जताई कि बजट सत्र के दौरान सदस्य जनहित से जुड़े मुद्दों को प्रमुखता से उठाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी विधायकों को सदन में अपनी-अपनी बात ररवने का पूरा मौका दिया जाएगा। विपिन सिंह परमार ने सदन को बताया कि प्रदेश विधानसभा द्वारा आरंभ की गई ई-विधान प्रणाली का जायजा लेने के लिए हरियाणा विधानसभा का एक दल इन दिनों विधानसभा के दौरे पर है। हरियाणा के विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता की अध्यक्षता में दौरे पर आया ये दल प्रदेश विधानसभा की ई-प्रणाली का अध्ययन कर हरियाणा विधानसभा को भी पेपरलेस बनाने पर काम करेगा।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है