Covid-19 Update

57,019
मामले (हिमाचल)
55,464
मरीज ठीक हुए
955
मौत
10,595,061
मामले (भारत)
96,228,754
मामले (दुनिया)

पहाड़ियों की शान हिमाचली टोपी के बदलते रंग….

- Advertisement -

शिमला। अपने अद्भुद प्राकृतिक सौंदर्य, अलग रिति-रिवाज और भव्य संस्कृति के लिए हिमाचल दुनिया भर में विख्यात है। हिमाचली टोपी राज्य की शान मानी जाती है। हाल ही में सोशल मीडिया पर #पहाड़ी_टोपी चैलेंज खूब छाया रहा, जिसमें लाखों लोगों ने हिमाचली टोपी में अपनी फोटो शेयर की। एक ठंडा प्रदेश होने की वजह से हिमाचल में पहाड़ी टोपी ठंड से बचने के लिए पहनी गई। राज्य के कुछ क्षेत्रों में तापमान -20°c तक नीचे चला जाता है। ऐसे में राज्य के लोगों को खुद को गर्म रखने के लिए कवर करने की जरूरत रहती है। नरम-मुलायम ऊन, पशम और मखमल से बनी हिमाचली टोपी राज्य के परिधान का अभिन्न अंग है। पहाड़ी टोपी में मूल रूप से तीन प्रकार की टोपियां प्रचलन में है।
बुशहरी, किन्नौरी और कुल्लूवी, इसके अलावा कुल्लुवी, भरमौरी, सिरमौरी, लाहुली, नेहरू, चम्बायाली और ठियोगी टोपियां भी कई तरह के अलग अलग रंगों व डिजाइनों में पूरे हिमाचल में प्रचलित हैं।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel  

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है