Covid-19 Update

2,27,093
मामले (हिमाचल)
2,22,422
मरीज ठीक हुए
3,830
मौत
34,580,832
मामले (भारत)
262,061,063
मामले (दुनिया)

हंसी-हंसी के इस खेल में हिमाचली बच्चे सीख रहे देवसंस्कृति के गुर, देखें Video

हंसी-हंसी के इस खेल में हिमाचली बच्चे सीख रहे देवसंस्कृति के गुर, देखें Video

- Advertisement -

सुंदरनगर। हिमाचल प्रदेश को देवभूमि इसलिए कहा जाता है क्योंकि यहां देवी-देवता वास करते हैं और सभी देवी-देवताओं की अपनी-अपनी मान्यता है और ऊपरी क्षेत्रों के देवताओं की एक अलग ही पहचान है। इतिहास भी इस बात से अछूता नहीं है कि हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) देवभूमि है। प्रदेश के देवी-देवता त्योहारों और प्रदेश के मेलों में शिरकत कर लोगों को अपना आशीर्वाद देते हैं।

इन दिनों सोशल मीडिया (Social media) पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें आने वाली पीढ़ी को देवसंस्कृति के प्रति प्रेरित किया जा रहा है और हंसी-हंसी के खेल में बच्चे देवसंस्कृति (Deity culture) के गुर सीख रहे हैं। 2 मिनट 7 सेकेंड के इस वीडियो में बच्चों को देवता की पालकी तैयार कर देवसंस्कृति के गुर सिखाए जा रहे हैं। देवता की पालकी को दो बच्चों ने उठाया है और एक बच्चा देवता के गुर के तौर पर कार्य कर रहा है और देवता का गुर बनकर देव खेल के माध्यम से देवता की पालकी से पूछताछ कर रहा है। गांव व परिवार के अन्य सदस्य बच्चों के इस कारनामे का हंस-हंस कर खूब लुफ्त उठा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बाथरूम में नहाने गई महिला का फिसला पैर, करंट लगने से गई जान

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो को लोगों की भरपूर सराहना मिल रही है। वीडियो कहां का है और किसने बनाया है यह बात अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है लेकिन इतना जरूर है कि वीडियो हिमाचल प्रदेश में हुई ताजा बर्फबारी के बीच बनाया गया और प्रदेश के ऊपरी क्षेत्र का लग रहा है। बच्चों को खेल-खेल के माध्यम से प्रदेश की देवसंस्कृति के गुर सिखाना एक सराहनीय प्रयास है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है