Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,557,583
मामले (भारत)
230,543,349
मामले (दुनिया)

बिना पंजीकरण सेब की नर्सरी बेचने वालों पर विभाग ने कसा शिकंजा, काटे चालान

बिना पंजीकरण सेब की नर्सरी बेचने वालों पर विभाग ने कसा शिकंजा, काटे चालान

- Advertisement -

रामपुर बुशहर। सेब की अवैध नर्सरी (Apple’s illegal nursery) बेचने वालों पर बागवानी विभाग (Horticulture department) ने कड़ी कार्रवाई अमल में लाई है। बागवानी विभाग के विषयवाद विशेषज्ञ ने प्रशासन व पुलिस की सहायता से बिना लाइसेंस सेब की नर्सरी बेचने वालों पर शिकंजा कसा। मौके पर ही 500 से ज्यादा सेब की नर्सरी को कब्जे में कर जला दिया गया। साथ ही अप्रमाणित नर्सरी बेचने वाले व्यापारियों को चेतावनी दी कि वे इस प्रकार बिना पंजीकरण के व्यापार ना करें, वरना भविष्य में इससे भी कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उल्लेखनीय है कि हर साल सर्दियों में सेब की नर्सरी बेचले वाले दर्जनों सड़क छाप व्यापारी आम रास्तों पर अपनी दुकान सजा देते हैं। बिना विभागीय पंजीकरण के नर्सरी बेचना खरीददार को महंगा पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: BJP की शिमला जिला कार्यकारिणी की हुई घोषणा, जानें किसे-किसे मिली जगह

इस प्रकार के पौधों की कोई गारंटी नहीं होती है। सेब की विभिन्न प्रकार की बीमारियों के पनपने का खतरा भी बना रहता है। विभाग समय-समय पर चेतावनी भी देता है कि बागवान इस प्रकार सड़क छाप विक्रेताओं से नर्सरी खरीद कर जोखिम न उठाएं।

वहीं जगदीश वर्मा विषयवाद विशेषज्ञ बागवानी केंद्र रामपुर ने बताया कि यहां पर कुछ लोग बिना लाइसेंस सेब की नर्सरी बेच रहे थे। जब लाइसेंस की मांग की गई तो वे मौके पर प्रस्तुत नहीं कर सके। विभागीय अधिकारियों ने पुलिस व प्रशासन की टीम के साथ मिल कर कार्रवाई अमल में लाई है। करीब पांच सौ से अधिक सेब व अन्य फलदार पौधों को जला कर नष्ट कर दिया। विक्रेताओं को भविष्य में बिना लाइसेंस कारोबार ने करने की हिदायत देकर छोड़ दिया गया। वहीं उन्होंने बताया कि पुलिस की टीम ने इन व्यापारियों के चलान भी काटे।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है