हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

IPL 2022: आईपीएल नीलामी के बाद खिलाड़ियों को कितने मिलते है पैसे, फुल डिटेल में जानिए यहां

ऑक्शन के बाद प्लेयर्ज को देना पड़ता है टीडीएस और टैक्स

IPL 2022: आईपीएल नीलामी के बाद खिलाड़ियों को कितने मिलते है पैसे, फुल डिटेल में जानिए यहां

- Advertisement -

पिछले कल से आईपीएल 2022 (IPL 2022) के लिए नीलामी प्रक्रिया जारी है। पहले दिन की बात करें तो शनिवार को कुल 97 खिलाड़ियों की बोली लगी, जिसमें 10 टीमों ने 74 खिलाड़ियों को खरीदा। सात खिलाड़ियों को 10 करोड़ रुपए से ज्यादा की कीमत मिली। लखनऊ (Lucknow) ने सबसे ज्यादा 52.10 करोड़ रुपए खर्चे तो वहीं दिल्ली और हैदराबाद ने सबसे अधिक 13.13 खिलाड़ियों को खरीदा। इशान किशन (Ishan Kishan) 15.25 करोड़ रुपए के साथ सबसे महंगे खिलाड़ी रहे। वहीं, अनकैप्ड प्लेयर्स में आवेश खान 10 करोड़ रुपए के साथ सबसे आगे रहे। विदेशियों में निकोलस पूरन को सबसे ज्यादा 10.75 करोड़ रुपए मिले। इनके अलावा भी कई खिलाड़ियों को महंगे दामों में खरीदा गया है।

यह भी पढ़ें- अब TATA से जाना जाएगा IPL 2022, 15.25 करोड़ में बिके ईशान किशन

लेकिन, क्या आप जानते हैं, इन खिलाड़ियों को जितने रुपए में खरीदा जाता है, उतने पूरे पैसे उन्हें मिलते हैं। ऑक्शन (Auction) में तय की गई कीमत में कुछ चार्ज भी काटे जाते हैं और उसके बाद उन्हें पैसे मिलते हैं। ऐसे में जानते हैं कि खिलाड़ियों को मिलने वाले पैसे में कितना चार्ज काटा जाता है और उन्हें कितना पैसा मिलता है।

कितनी हो जाती है कटौती।

बता दें कि जब ऑक्शन होता है तो भारतीय खिलाड़ियों (Indian Players) को ऑक्शन के रूप में जितने भी रुपए मिलते हैं, उसमें टीडीएस का चार्ज भी कटता है। भारतीय खिलाड़ियों को जितना भी पेमेंट मिलता है, उसका 10 फीसदी टीडीएस (TDS) कटता है। इसके बाद इन्हें आईटीआर फाइल करनी होती है और उसमें अन्य इनकम और खर्चों का हिसाब होता है, जिसके बाद कमाई पर आखिरी टैक्स देना होता है। नेट इनकम के बाद इसमें टैक्स और भी देना पड़ सकता है। टीडीएस की गणना सिर्फ ऑक्शन मनी के आधार पर होता है।

वहीं, सीए सौरभ शर्मा (CA Saurabh Sharma) ने बताया कि उन्हें टैक्स कटने के बाद कितना पैसा मिलता है, इसकी एक्युरेट गणना करना मुश्किल है। दरअसल, ऑक्शन एक बेस प्राइज होता है, इसके बाद कंपनियों का खिलाड़ियों को अलग.अलग कॉन्ट्रेक्ट होता है। उस कॉन्ट्रेक्ट (Contract) के आधार पर उन्हें पैसे मिलता है और उसके बाद उनकी इनकम और खर्चों को लेकर टैक्स की गणना की जा सकती है। वैसे आम तौर पर उनके ऑक्शन प्राइज से 10 फीसदी टीडीएस काटा जाता है।

विदेशियों को कितना देना होता है टैक्स

वहीं, विदेशी खिलाड़ियों (Foreign Players) को भारत में मिलने वाली इनकम का 20 फीसदी टीडीएस देना होता है। वहीं, विदेशी खिलाड़ियों को टीडीएस के अलावा किसी भी तरह का टैक्स नहीं देना होता है। अगर उन्होंने भारत में कोई और कमाई नहीं की है तो उन्हें किसी तरह का टैक्स नहीं देना होगा। उन्हें भारत (India) में की गई कमाई पर ही टैक्स देना होता है, ना ही उन्हें इनकम टैक्स रिटर्न भरने की कोई आवश्यकता नहीं होती है। बता दें कि इन खिलाड़ियों को पैसे भी अलग-अलग तरह से पैसे मिलते हैं। इसमें अगर कोई खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया जाता है तो उन्हें अलग हिसाब से पैसे मिलता है।

ऐसे में कहा जा सकता है कि पूरी कटौती की जानकारी खिलाड़ियों के साथ होने वाले कॉन्ट्रेक्ट के आधार पर पता की जा सकती है। वहीं, अगर कोई खिलाड़ी आईपीएल खेलने के लिए अवेलेबल नहीं होता है तो उन्हें फीस डिडक्ट (Fee Deduct) करके दी जाती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है