Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,796
मरीज ठीक हुए
960
मौत
10,655,435
मामले (भारत)
99,333,754
मामले (दुनिया)

पीरियड्स में होने वाले Heavy flow से बचने के क्या हैं उपाय, पढ़े यहां

पीरियड्स में होने वाले Heavy flow से बचने के क्या हैं उपाय, पढ़े यहां

- Advertisement -

महिलाओं के लिए पीरियड्स के वो दिन काफी परेशानी वाले होते हैं। अधिकांश लड़कियां और महिलाएं चाहती हैं कि जैसे- तैसे बस ये दिन कट जाएं और मुसीबत से छुटकारा मिले। पीरियड्स का उनके दिलो-दिमाग पर भी असर पड़ता है। इस दौरान पूरे बदन में दर्द और ऐंठन बनी रहती है जो मानसिक परेशानी का भी कारण बनती है। कुछ महिलाओं को पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग भी होती है। कभी-कभी तो इन्हें सहना भी मुश्किल हो जाता है और अगर इन सब के साथ हैवी फ्लो है, तो परेशानी और अधिक बढ़ जाती है। ऐसे में ज़रूरी है कि पीरियड्स के दौरान महिलाएं अपना ख़ास ख़्याल रखें, ताकि हैवी फ्लो उनके लिए मुश्किल न बन जाए। आइए जानते हैं इस दौरान किन बातों का खास ख्याल रखना जरूरी होता है।

  • हैवी फ्लो के दिनों के लिए महिलाओं को सुपर एब्र्ज़ाबेन्ट पैड चुनना चाहिए, जिसकी बाहरी परत बेहद मुलायम और अच्छी गुणवत्ता से युक्त हो। साथ ही यह भी ज़रूरी है कि आप अपनी त्वचा और फ्लो को ध्यान में रखते हुए सही पैड चुनें। आपके शरीर के नाज़ुक हिस्सों में आसानी से रैश हो सकते हैं, इसलिए मुलायम पैड इस्तेमाल करें, ताकि गर्म और उमसभरे मौसम में भी आपकी त्वचा में रैश न होने पाएं.
  • मानसून में जहां एक ओर गर्मी और उमस से राहत मिलती है, वहीं दूसरी ओर इस मौसम में इन्फेक्शन और रैश की संभावना भी बढ़ जाती है, इसलिए अच्छा होगा कि इस मौसम में आप पीरियड्स के लिए क्विक एब्र्ज़ाप्शन पैड चुनें, ताकि आपकी त्वचा सूखी रहे। गुप्तांगों की सफ़ाई के लिए साबुन या वेजाइनल हाइजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें। सादा पानी ही पर्याप्त है. हर 4-6 घण्टे में पैड बदलती रहीं, ताकि इन्फेक्शन की संभावना न हो। पीरियड्स के दौरान हैवी फ्लो के लिए डिज़ाइन किए गए पैड इस्तेमाल करें
  • जब शरीर में आयरन की कमी होती है, तो पीरियड्स के दौरान फ्लो बढ़ जाता है, इसलिए अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करें, जिनमें आयरन भरपूर मात्रा में हो। पालक, बीन्स, दालें, ब्रॉकली आदि आयरन के अच्छे स्रोत हैं।
  • अदरक का पानी पीने तथा दालचीनी और धनिये के बीज के सेवन से हैवी फ्लो में आराम मिलता है। घरेलू उपाय हमेशा कारगर होते हैं। अपने आहार में ये छोटे-छोटे बदलाव लाकर आप हैवी फ्लो की मुश्किलों को आसान बना सकती हैं।
  • अगर आपको कुछ दिनों के लिए हैवी फ्लो रहता है, तो आपमें खून की कमी हो सकती है। ऐसे में सामान्य से 4-6 कप ज़्यादा पानी पीएं. इलेक्ट्रोलाइट सोल्यूशन का इस्तेमाल करें, ज़्यादा पानी को संतुलित करने के लिए आहार में नमक की मात्रा बढ़ाएं।

इन चीजों से करें परहेज

  • शहद सेहत के लिए काफी फायदेमंद है और यह शरीर को गर्म रखता है। लेकिन पीरियड्स के दौरान किसी भी तरह से इसके सेवन से हैवी ब्लीडिंग की समस्या सामने आ सकती है। इसकी गर्म तासीर की वजह से पीरियड्स में ब्लड ज्यादा आ सकता है।
  • हीमोग्लोबिन बरकरार रखने के लिए कई डॉक्टर्स चुकंदर खाने की सलाह देते हैं। यह सेहत के लिए अमृत के समान है। इसमें कैल्शियम, आयरन, विटामिन, पोटेशियम, फॉलिक एसिड और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसे खाने से शरीर में खून तेजी से बनता है। यही वजह है कि पीरियड्स के दौरान इसे खाने से हैवी ब्लीडिंग की समस्या होती है।
  • पीरियड्स पेन को कम करने के लिए कई लोग कॉफी पीने की सलाह देते हैं। लेकिन अगर आपको पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग होती है तो कॉफी के सेवन से आपको परहेज करना चाहिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है