Covid-19 Update

2,01,210
मामले (हिमाचल)
1,95,611
मरीज ठीक हुए
3,447
मौत
30,134,445
मामले (भारत)
180,776,268
मामले (दुनिया)
×

#Himachal के सैकडों युवाओं के लिए ये समझौता खोलेगा रास्ते, 100 करोड़ का है मामला

अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में ऐलोपेथी, होम्योपैथी, आयुर्वेद, न्यूरोपैथी, योग में होंगे शोध विकसित

#Himachal के सैकडों युवाओं के लिए ये समझौता खोलेगा रास्ते, 100 करोड़ का है मामला

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश के शिमला (Shimla) और चूड़धार क्षेत्र में एशिया का प्रथम पर्वतीय संस्थान (First Mountain Institute) स्थापित किया जाएगा। जिसको लेकर बुधवार को जय राम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) की उपस्थिति में सिक्स सिगमा हेल्थ केयर के साथ 100 करोड़ रुपये के निवेश के लिए एक समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया। सिक्स सिगमा हेल्थ केयर विशेषज्ञ पर्वतीय स्वास्थ्य टीम है, जिन्हें भारतीय सशस्त्र सेना द्वारा प्रशिक्षित किया गया है। सिक्स सिगमा (Six Sigma) वर्ष 2009 से अधिक ऊंचाई वाली धार्मिक यात्रा जैसे अमरनाथ, कैलाश मानसरोवर, केदारनाथ, मणिमहेश और उत्तराखंड बाढ़ व नेपाल भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं के दौरान निःशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं (Free health services) प्रदान कर रही है। बैठक में सिक्स सिगमा के प्रमुख कार्यकारी अधिकारी डॉ. प्रदीप भारद्वाज और सदस्यों मेजर जनरल अतुल कौशिक व शौविक चन्द्र दत्ता ने इस संस्थान को स्थापित करने का प्रस्ताव दिया।

यह भी पढ़ें : सीएम Jai Ram से मिलना चाहते हैं- Online मिलेगी Appointment


सीएम जयराम ने प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए कहा कि राज्य सरकार शिमला और सिरमौर जिलों में इस संस्थान को स्थापित करने के लिए भूमि खरीद के लिए सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने कैलाश मणिमहेश यात्रा के दौरान स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए सिक्स सिगमा स्वास्थ्य देखभाल की टीम के प्रयासों की सराहना की। जयराम ने कहा कि प्रदेश सरकार पर्वतीय क्षेत्रों और धार्मिक यात्राओं (Religious visits) में गुणवत्ता सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। डॉ. प्रदीप भारद्वाज ने कहा कि इस संस्थान के क्रियाशील होने के उपरांत 727 युवाओं को रोजगार उपलब्ध होगा। संस्थान का उद्देश्य अधिक ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में ऐलोपेथी, होम्योपैथी, आयुर्वेद, न्यूरोपैथी, योग में सभी प्रकार के शोध विकसित करना और पर्वतीय चिकित्सा के क्षेत्र में विशेषज्ञों को शिक्षित करना है। स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. आरएन बत्ता, सिक्स सिगमा बोर्ड के सदस्य मेजर जनरल अतुल कौशिक भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है