Expand

इंद्रूनाग देवता के दरबार जाएगी HPCA

इंद्रूनाग देवता के दरबार जाएगी HPCA

- Advertisement -

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (HPCA) शीघ्र ही धर्मशाला के खनियारा स्थित इंद्रूनाग देवता के दरबार जाएगी। इंद्रूनाग के दरबार में जाकर एचपीसीए धर्मशाला स्टेडियम में 16 अक्तूबर को भारत व न्यूजीलैंड के मध्य खेले जाने वाले एक दिवसीय मैच के सफल आयोजन की मन्नत मांगेगी।

  • इंटरनेशनल वनडे मैच के सफल आयोजन की मांगेगी मन्नत

hpcaइंद्रूनाग को धर्मशाला क्षेत्र का पीठासीन देवता माना जाता है, यही नहीं इंद्रूनाग को बारिश का देवता भी माना जाता है। यही कारण है कि धर्मशाला में कोई भी बड़ा क्रिकेट इवेंट होने पर एचपीसीए इंद्रूनाग देवता के दरबार पहुंचती है। इस सप्ताह मैच से पहले एचपीसीए पदाधिकारी इंद्रूनाग देवता के दरबार जाकर वहां पूजा-अर्चना करेंगे। 

  • मान्यता है कि इस दौरान देवता के गुरों (चेलों) द्वारा खेल पात्र डालकर मैच के दौरान मौसम की भविष्यवाणी की जाती है।
  • अब तक धर्मशाला में हुए विभिन्न नेशनल व इंटरनेशनल क्रिकेट इवेंटस के दौरान इंद्रूनाग देवता के मंदिर में जाकर देवता के गुरों से खेल पात्र डलवाती है।
  • अब तक देवता द्वारा एचपीसीए को मैचों के सफल आयोजन का आशीर्वाद मिलता रहा है। हालांकि एचपीसीए के इतिहास में पहली बार इस वर्ष आयोजित आईसीसी टी 20 वर्ल्ड कप के मैचों में बारिश का खलल पड़ा था।
  • इस बार एचपीसीए इंद्रूनाग को मनाने में कोई कसर नहीं रखना चाहेगी।indrunag2अच्छी फसल के लिए भी जाते हैं इंद्रूनाग के दरबारधर्मशाला व आसपास के लोग फसलों की बेहतर पैदावार के लिए इंद्रूनाग के दर जाना नहीं भूलते। कभी फसल के लिए बारिश की जरूरत पर बारिश न होने पर जहां इंद्रूनाग को प्रसन्न किया जाता है, वहीं अधिक बारिश से फसलें बर्बाद न हों, इसके लिए भी देवता की पूजा की जाती है। लोगों में इंद्रूनाग देवता के प्रति इतनी आस्था है कि अच्छी फसल होने पर क्षेत्रवासी तैयार फसल या नई फसल से प्रसाद तैयार करवाकर इंद्रूनाग मंदिर में चढ़ाना नहीं भूलते। क्षेत्रवासी मंदिर में नाचते-गाते हुए जाते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है