Covid-19 Update

1,98,010
मामले (हिमाचल)
1,89,469
मरीज ठीक हुए
3,358
मौत
29,359,155
मामले (भारत)
176,047,505
मामले (दुनिया)
×

पहली जुलाई से एचपीयू होगा कैशलेस, मनपसंद बीएड कॉलेज में पाएं एडमिशन

पहली जुलाई से एचपीयू होगा कैशलेस, मनपसंद बीएड कॉलेज में पाएं एडमिशन

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (एचपीयू) के कुलपति आचार्य सिकन्दर कुमार ने कहा है कि 1 जुलाई के बाद विश्वविद्यालय (HPU) में कोई भी लेन-देन नकद नहीं होगा साथ ही बीएड़ की सारी प्रवेश प्रक्रिया ऑनलाइन होने से उनको मनपसंद का बीएड कॉलेज मिल पाएगा। आज विवि में ईआरपी प्रणाली की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए वीसी ने कहा कि प्रवेश से लेकर माइग्रेशन तक का सारा कार्य ऑनलाइन (Online) किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :-शिमला से आरट्रेक शिफ्ट करने के मामले में प्रदेश सरकार क्लीयर करें अपना स्टेंड




विश्वविद्यालय
में प्रथम चरण (stage 1) में प्री एडमिशन, फीस प्रबन्धन, प्रवेश एवं अकादमिक, पूर्व परीक्षा मॉडयूल, परीक्षा प्रबन्धन और परिणाम, सैल्फ सर्विस पोर्टल फॉर स्टूडेंट, सम्बद्धता प्रबन्धन, छात्रावास और मैस प्रबन्धन, प्लेसमेंट प्रबन्धन, पूर्व छात्र प्रबन्धन वित्त अकाउंटिंग, बज़ट प्रबन्धन, भर्ती, पे रोल, जीपीएफ और पेंशन शाखा, स्थापना शाखा, अवकाश प्रबंधन और कर्मचारियों के लिए सेल्फ सर्विस पोर्टल को सुचारू रूप से चलाया जा रहा है तथा इन पोर्टल में समय-समय पर सामने आई ख़ामियों को दूर किया गया है और उसमें और सुधार के प्रयास किए जा रहे हैं।

कुलपति ने कहा कि ईआरपी से महाविद्यालयों के लिए पेमेंट गेटवे (Payment gateway) जोड़े जाने की योजना है जिससे महाविद्यालयों को संबद्धता इत्यादि के अतिरिक्त किसी भी प्रकार के लेन-देन में दिक्कत नहीं होगी। कुलपति ने कहा कि द्वितीय चरण में रिसर्च प्रोजेक्ट, भंडार और खरीद, एस्टेट, टअर और ट्रेवल, बिल ट्रैकिंग, आरटीआई, परिवहन, चिकित्सा, दीक्षांत समारोह, अतिथि गृह, फाइल टैकिंग सिंस्टम, विपत्ति प्रबन्धन, संगोष्ठी, विधि सैल, ज्ञान प्रबन्ध पोर्टल को 1 जुलाई से आरम्भ कर दिया जाएगा तथा इसके अन्तर्गत फाइलों की मॉनिटरिंग के साथ-साथ विभागीय स्तर पर भी तालमेल बनाने में सहयोग मिलेगा।

उन्होंने कहा कि इस बार बीएड की सारी प्रवेश प्रक्रिया ऑनलाइन की जाएगी जिसके लिए केन्द्रीयकृत ऑनलाइन सिस्टम विवि में तैयार किया जा रहा है और छात्रों को केवल अपनी इच्छानुसार बीएड कॉलेज चिन्हित करने होंगे तथा स्वयं ही ऑनलाइन उनका प्रवेश उनकी पसंद के बीएड कालेज में हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे आने जाने का समय बचने के साथ साथ धन एवं ऊर्जा की भी बचत होगी। उन्होंने कहा कि 1 जुलाई के बाद ऑनलाइनई भुगतान करने के बाद स्वयं ही रसीद (Receipt) जनरेट हो जाएगी। इसके अतिरिक्त विष्वविद्यालय के होम पेज पर भी सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त होगी।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है