Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

एचआरटीसी चालक की पत्नी बोलीं-पति की हो सकती है हत्या, सुरक्षा मांगी

एचआरटीसी चालक की पत्नी बोलीं-पति की हो सकती है हत्या, सुरक्षा मांगी

- Advertisement -

सुंदरनगर। उपमंडल सुंदरनगर (Sunder Nagar) की जड़ोल निवासी महिला ने शुक्रवार को एसडीएम (SDM) सुंदरनगर के माध्यम से सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से शिमला (Shimla) में कार्यरत एचआरटीसी (HRTC) में चालक पति की जान के सुरक्षा के मांग की है। महिला ने शिमला में निगम के अधिकारियों और पुलिस (Police) पर एफआईआर (FIR) दर्ज करने के बावजूद पति की मदद न करने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें: सुंदरनगर में रास्ता रोक कर सेल्जमैन पर हमला, सिर पर आई चोट

 


जड़ोल निवासी कांता देवी पत्नी सुरेंद्र कुमार सीएम को भेजे मांग पत्र में संदेह जताया कि अगर समय रहते कड़ी कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई, तो इनके पति की हत्या भी जा सकती है। कांता देवी ने जारी बयान में कहा कि इनके पति सुरेंद्र कुमार एचआरटीसी निगम में शिमला स्थित तारा देवी यूनिट एक के तहत चालक के पद पर 2 सालों से कार्यरत हैं।

उन्होंने कहा कि 18 जून को उस समय उन पर जानलेवा हमला किया, जब वह लिंगजाड से दुबड़ा रूट पर बस को लेकर सवारियों सहित जा रहे थे, तो सराह कस्बे पर पहुंचने पर खच्चर से पास लेते हुए बस के भाग के टच होने पर कुछ लोगों ने लोहे की रॉड और हथियारों के साथ हमला कर उनके सिर और शरीर पर मार कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया।

उनकी सोने की चेन और मोबाइल तोड़ कर कपड़े वर्दी फाड़ डाली। उन्होंने कहा कि मामले संबंधित थाने में एफआईआर (FIR) करवाई, लेकिन पुलिस ने न मेडिकल करवाया न उपचार और न ही क्षेत्रीय प्रबंधक तथा अड्डा प्रभारी ने कोई किसी भी तरह की मदद की। हालांकि सूचना मिलने के उपरांत निगम के चालक संघ के राज्य प्रधान ने बाद में मौके पर पहुंचकर, इनका शिमला में मेडिकल करवाया और उपचार करवाकर इन्हें घर पहुंचाया। कांता देवी ने कहा कि इनके पति को जान का खतरा है।

नौकरी पर जाने से उस स्थान पर उनकी हत्या भी की जा सकती है। उन्होंने कहा कि पुलिस में और निगम में स्थानीय कर्मचारी अधिकारी भी वहीं के स्थानीय वासी हैं, जिसके चलते उनके पति सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने सीएम से पति की जान माल से सुरक्षा करने सहित मामले की जांच की मांग की है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है