Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

आठ माह बाद किलाड़ से चंबा वाया साचपास रूट पर दौड़ी HRTC की 37 सीटर बस

आठ माह बाद किलाड़ से चंबा वाया साचपास रूट पर दौड़ी HRTC की 37 सीटर बस

- Advertisement -

चंबा/केलांग। पिछले आठ माह से बंद पड़े किलाड़-चंबा वाया साच पास रूट पर अब जल्द ही एचआरटीसी बस (HRTC Bus) दौड़ेगी। एचआरटीसी केलांग डिपो ने अपनी 37 सीटर बस का ट्रायल (Trial) किया है जो पूरी तरह से सफल रहा है। रोहतांग दर्रे की तरह ही खतरों से भरे इस किलाड़-चंबा साच मार्ग पर बस सेवा शुरू होने से चंबा व किलाड़ (Killar) के लोग इधर-उधर आ जा सकेंगे। 175 किमी लंबे इस रूट पर पिछले साल समय से पहले बर्फबारी (Snowfall) होने से पहली अक्टूबर से बस सेवा बंद कर दी थी। अब आठ महीने बाद फिर से इस मार्ग पर बस चलने से रौनक लोट आएगी। केलांग डिपो (Kelong Depo) ने इस 175 किमी लंबे सफर का किराया 304 रुपये निर्धारित किया है। यह रूट देश का सबसे लंबा और ऊंचा रूट है।

यह भी पढ़ें: कोविड-19: अंतरराज्यीय सीमाओं पर स्वास्थ्य कर्मियों की तैनाती, DC ने जारी किए आदेश

बता दें कि पांगी के लोगों के लिए इससे पहले घाटी से निकलने का रास्ता सिर्फ रोहतांग दर्रे से ही होकर गुजरता था, लेकिन अब सरकार ने साच पास होते हुए चंबा को किलाड़ से जोड़ दिया है। पहले किलाड़ से चंबा जाने के लिए केलंग, मनाली, मंडी, कांगड़ा होते हुए लगभग 650 किमी लंबा सफर तय कर चंबा जाना पड़ता था, लेकिन अब साच पास होते हुए यह दूरी मात्र 175 किमी ही रह गई है। हालांकि साच पास भी रोहतांग दर्रे की ही तरह राहगीरों के लिए मुशिकलों भरा सफर है। जानकारी देते हुए एचआरटीसी केलांग डिपो के आरएम मंगल मनेपा ने बताया कि बस का ट्रायल सफल रहा है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है