Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

किसानों के मुद्दे पर राज्यसभा में भारी हंगामा, कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

विपक्ष की नारेबाजी के चलते सदन की कार्यवाही को सुबह तीन बार किया गया स्थगित

किसानों के मुद्दे पर राज्यसभा में भारी हंगामा, कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

- Advertisement -

नई दिल्ली। किसान आंदोलन की गूंज मंगलवार को संसद में भी सुनाई दी। कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने राज्यसभा (Rajya Sabha) में किसानों के मुद्दे पर चर्चा को लेकर नोटिस दिया था। हालांकि सभापति एम वेंकैया नायडू ने उनकी इस मांग को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर कल चर्चा होगी। इस बात को लेकर नाराज विपक्ष ने सदन से वॉकआउट (Walkout) कर दिया। थोड़ी देर में विपक्ष वापस लौटा और किसानों के समर्थन (Farmers Support) में जमकर नारेबाजी करने लगा। विपक्ष की नारेबाजी के चलते सदन की कार्यवाही को तीन बार स्थगित किया गया। इसके बाद भी विपक्ष का हंगामा जारी रहा जिसके कारण कार्यवाही को बुधवार सुबह नौ बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने सड़कों में लगा दी कीलें – पूरे देश में चक्का जाम का ऐलान

जानकारी के अनुसार कांग्रेस (Congress) ने भी राज्यसभा में भी स्थगन प्रस्ताव दिया और किसानों की मांगों पर चर्चा करने की मांग की। राज्यसभा में विपक्षी दलों ने कृषि कानूनों का जमकर विरोध किया। विपक्षी दलों ने किसानों के मुद्दे पर चर्चा की मांग के लिए नोटिस दिया लेकिन राज्यसभा चेयरमैन की तरफ से आज चर्चा के लिए इनकार कर दिया गया। इसके बाद विपक्षी दल सदन से वॉकआउट कर गए और शन्यू काल शुरू हो गया। इसके बाद विपक्षी सांसद सदन में वापस आए और किसानों के समर्थन में आवाज उठाते हुए कृषि कानून वापस लेने की नारेबाजी की। किसानों के मुद्दे पर विपक्षी सांसदों की नारेबाजी को देखते हुए राज्यसभा की कार्यवाही सुबह 10.30 बजे तक स्थगित कर दी गई।


इसके बाद सुबह 10.30 बजे जैसे फिर से सदन चालू हुआ, विपक्षी सांसदों ने कृषि कानून (Agricultural law) विरोधी नारेबाजी शुरू कर दी। हंगामे को देखते हुए सदन की कार्यवाही एक बार फिर सुबह 11.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। राष्ट्रपति के अभिभाषण का हवाला देते हुए कल इस मसले पर चर्चा की बात कही गई लेकिन विपक्षी सांसद नहीं माने और सदन में काले कानून वापस लो और सरकार मुर्दाबाद की नारेबाजी बार-बार की। हंगामे को देखते हुए सदन की कार्यवाही तीसरी बार दोपहर 12.30 बजे तक स्थगित कर दी गई। 12.30 बजे एक बार फिर जब कार्यवाही शुरू हुई तो जय जवान, जय किसान के नारे लगने लगे। इसके बाद उपसभापति ने कहा कि कल से राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा करने जा रहे हैं, अभी आप अपनी सीटों पर जाएं, लेकिन विपक्षी सांसद नहीं माने और नारेबाजी करते रहे। ये देखते हुए सदन की कार्यवाही कल सुबह 9 बजे तक स्थगित कर दी गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है