Covid-19 Update

56,943
मामले (हिमाचल)
55,280
मरीज ठीक हुए
954
मौत
10,566,720
मामले (भारत)
95,173,803
मामले (दुनिया)

Solan: #birdflu के खतरे के बीच सड़क किनारे फेंके मरे मुर्गों के सैंपल जांच को जालंधर भेजे

डीसी हमीरपुर देव श्वेता बनिक ने बर्ड फ्लू के चलते जारी की एडवाइजरी

Solan: #birdflu के खतरे के बीच सड़क किनारे फेंके मरे मुर्गों के सैंपल जांच को जालंधर भेजे

- Advertisement -

सोलन/ हमीरपुर। बर्ड फ्लू के खतरे के बीच सोलन (Solan) जिला के सीमावर्ती क्षेत्र परवाणू में बुधवार सुबह सड़क किनारे सैंकड़ों मरे हुए मुर्गे- मुर्गियां मिली हैं। इतनी संख्या में इन मरे हुए मुर्गे-मुर्गियों के मिलने से क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया। बताया जा रहा है कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने जिला कांगड़ा (Kangra) में फैले बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए रात के अंधेरे में इन मुर्गों को यहां फेंका है। मामले की शिकायत पुलिस और जिला प्रशासन को दी गई है। जिसके बाद हरकत में आया स्वास्थ्य विभाग और पुलिस मौके पर पहुंचे और मुर्गे-मुर्गियों के सैंपल लेकर जांच के लिए जालंधर भेज दिए हैं। मरे हुए मुर्गे-मुर्गियों को गड्ढे में दबा दिया गया है। अब रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ होगी कि इनकी मौत फ्लू से हुई है या अन्य वजह से।

यह भी पढ़ें : #Birdflu Update:पौंग बांध के पानी में भी Virus की आशंका, जांच को लैब में भेजे सैंपल

वहीं, पुलिस ने मरे हुए मुर्गे-मुर्गियां फेंकने वाले की तलाश शुरू कर दी है। पशुपालन विभाग के उपनिदेशक बीबी गुप्ता ने बताया कि सैंपल जांच के लिए जालंधर स्थित आरडीडीएल भेजे गए हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। हाईवे में यह पहला मामला नहीं है कि किसी ने मरे हुए मुर्गे.मुर्गियां फेंके हों। कोरोना के शुरुआती दौर में भी चक्की मोड़ से दत्यार के बीच काफी संख्या में मरे हुए मुर्गे फेंके गए थे। बता दें कि कांगड़ा जिला के पौंग बांध अभ्यारण्य में बर्ड फ्लू (एवियन इन्फ्लूएंजा) की पुष्टि के बाद प्रदेश भर में अलर्ट जारी किया गया है। निरीक्षण टीमें गठित कर दी गई हैं। चिड़ियाघरों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। झीलों का लगातार निरीक्षण किया जा रहा है। पौंग में सात दिन के भीतर मृतक परिंदों का आंकड़ा 2ए403 के पार पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें : Himachal Bird Flu Alert: पोल्ट्री के लिए 119 सैंपल, जांच को जालंधर भेजे

वहीं कांगड़ा जिला से सटे हमीरपुर (Hamirpur) में भी जिला प्रशासन ने बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट (Alert) जारी कर दिया है। बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए डीसी देव श्वेता बनिक ने पशु पालन विभाग और वन विभाग के अधिकारियों तथा पोल्ट्री से जुड़े लोगों को विशेष ऐहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं। डीसी देव श्वेता बनिक ने जिला में एडवाइजरी (Advisory) जारी करते हुए बर्ड फलू से निपटने के लिए सतर्क रहने के साथ साथ बीमारी से बचाव करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि कांगडा जिला बहुत नजदीक है और इसके चलते हमीरपुर जिला में भी अलर्ट जारी करते एडवाजरी का पालन करने की हिदायत दी गई है। साथ ही इस तरह की स्थिति से निपटने के लिए वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी भी जिला में पक्षियों के समूहों पर नजर रखें।

बता दें कि कांगड़ा जिले के देहरा उपमंडल के कुछ क्षेत्रों में प्रवासी पक्षियों के मरने और उनमें बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद हमीरपुर जिले में भी विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। देव श्वेता बनिक ने पशु पालन विभाग और वन विभाग के अधिकारियों को स्थिति पर नजर रखने के निर्देश देते हुए कहा कि जिला में अगर कहीं पर भी पक्षियोंए पोल्ट्री फार्मों अथवा घरों में रखी मुर्गियों में किसी भी तरह की बीमारी या मरने के मामले सामने आते हैं तो त्वरित कदम उठाएं तथा प्रशासन को सूचित करें। उन्होंने अधिकारियों को बर्ड फ्लू से निपटने के लिए सरकार की ओर से जारी किए गए एक्शन प्लान के अनुसार कार्य करने के निर्देश दिए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है