Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

नाहन : सलानी नदी में तड़प-तड़प कर मर गईं सैकड़ों मछलियां

नाहन : सलानी नदी में तड़प-तड़प कर मर गईं सैकड़ों मछलियां

- Advertisement -

नाहन। सैनवाला पंचायत के साथ बह रही सलानी नदी में सैकड़ों मछलियां तड़प-तड़प कर मर गई हैं। माना जा रहा है कि सलानी क्षेत्र में चल रहे एक उद्योग द्वारा रसायनयुक्त पानी (Chemical water) नदी में छोड़े जाने से मछलियां मर गईं। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत मत्स्य विभाग के साथ साथ प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से की है। जानकारी मुताबिक उद्योग के प्रदूषित पानी से सलानी की नदी में सैकड़ों की संख्या में मछलियां मर गई हैं। ग्रामीणों ने नदी में मृत मछलियों को देखा तो मत्स्य पालन विभाग (Fisheries department) के स्थानीय कर्मचारी को सूचित किया। मत्स्य पालन विभाग के क्षेत्रीय सहायक दर्शन लाल ने मौके का मुआयना किया और मछलियों को मृत पाया।

यह भी पढ़ें :-शादी से किया इनकार तो नाबालिग को जिंदा जलाया फिर खुद को भी लगा ली आग


ग्रामीणों ने तड़प कर मर रहीं मछलियों की वीडियो भी बनाई। इस दौरान ग्रामीणों ने घटना की सूचना प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों को भी दी। स्थानीय लोगों ने बताया कि सलानी नदी में बड़ी संख्या में मछलियां का एक साथ मर गई हैं। जाहिर है कि उद्योग (Industry) का प्रदूषित पानी नदी में छोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों को मवेशियों की चिंता सताने लगी है क्योंकि अधिकांश ग्रामीणों के मवेशी नदी का पानी पीते हैं। ऐसे में प्रदूषित जल पीने से मवेशियों की जान भी जा सकती है। वहीं, क्षेत्र में चल रही पेयजल योजनाओं पर भी इसका प्रतिकूल असर हो सकता है। ग्रामीणों ने संबंधित विभागों से मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग की है। फिलहाल, मत्स्य विभाग द्वारा नदी से पानी के सैंपल ले लिए गए हैं। यदि नदी में किसी उद्योग का कैमिकल पाया जाता है तो उसके खिलाफ मामला दर्ज करवाया जाएगा।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है