Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

इस आईएएस अधिकारी ने पूरा किया चंद्रताल चैलेंज, 250 किमी की यात्रा में उठाया कचरा

फोटोग्राफर जसवीर पाल ने भी दिया साथ, मंडी जिला के थुनाग से शुरू किया था सफर

इस आईएएस अधिकारी ने पूरा किया चंद्रताल चैलेंज, 250 किमी की यात्रा में उठाया कचरा

- Advertisement -

मंडी। दिल में कुछ नया और हटकर करने का जुनून हो तो मुश्किलें भी बाधा नहीं बन सकती। कुछ ऐसा ही करके दिखाया है आईएएस अधिकारी संदीप कुमार और फोटोग्राफर जसप्रीत पाल ने। इन दोनों ने मिलकर चंद्रताल चैलेंज के नाम से साइकिल यात्रा को ना सिर्फ शुरू किया बल्कि उसे पूरा भी करके दिखाया। जसप्रीत पाल हाल ही में फायर फॉक्स कंपनी द्वारा आयोजित वर्चुअली साइकिलिंग प्रतियोगिता को विजेता रह चुके हैं। एचआरटीसी में बतौर एमडी अपनी सेवाएं दे रहे आईएएस अधिकारी (IAS officer Sandeep Kumar) और फाटोग्राफर जसप्रीत पाल (Photographer Jaspreet Pal) ने बीती 10 जून को मंडी जिला के थुनाग से चंद्रताल के लिए साइकिल पर यात्रा की शुरूआत की। पहले दिन पतलीकूहल में पड़ाव किया और उसके अगले दिन रोहतांग दर्रे को साइकिल से पार करते हुए कोकसर पहुंचे। इसके अगले दिन बातल तक गए और चौथे दिन चंद्रताल की ठंडी झील के पास पहुंचकर अपने चैलेंज को पूरा किया। रोजाना इन दोनों से 60 किमी की यात्रा साइकिल पर की और चार दिनों में 250 किमी की यात्रा को पूरा किया। आईएएस अधिकारी संदीप कुमार ने बताया कि यह उनके लिए नया अनुभव था और इसका उन्होंने भरपूर आनंद उठाया।

यह भी पढ़ें: पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने 2800 किलोमीटर पैदल चला कुल्लू का वीरेंद्र, 48 दिन में पूरा किया सफर

 


 

इस साइकिलिंग यात्रा के माध्यम से इन दोनों ने पर्यटन को बढ़ावा देने और पर्यावरण संरक्षण (Environment Protection) का संदेश देने का प्रयास भी किया। रास्ते में जहां कहीं खाली बोतलें नजर आईं तो उन्हें एकत्रित किया और साथ में चल रही गाड़ी के माध्यम से इस कचरे को भरकर सही ठिकाने तक पहुंचाया। जसप्रीत पाल ने बताया कि बहुत से पर्यटक पहाड़ों पर आकर इस बात को भूल जाते हैं कि पर्यावरण का संरक्षण करना हम सभी का दायित्व है।

 

 

हालांकि इनके साथ एक अन्य दल भी था, लेकिन दोनों ने अपनी यात्रा को साइकिल के माध्यम से ही पूरा किया। रास्ते में कई कठिनाइयां भी आई, लेकिन उन सभी को पार करते हुए चंद्रताल तक अपने चैलेंज को कंपलीट किया। बता दें कि संदीप कुमार डीसी कांगड़ा और डीसी ऊना के पद पर रहते हुए साइकिलिंग को बढ़ावा देने की दिशा में बेहतरीन कार्य कर चुके हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है