×

बिना कोचिंग शादी के बाद IAS बन अनुकृति ने पूरा किया सपना, पढ़ें Success story

सिविल सेवा परीक्षा 2019 में अनुकृति ने हासिल किया है 133वां रैंक

बिना कोचिंग शादी के बाद IAS बन अनुकृति ने पूरा किया सपना, पढ़ें Success story

- Advertisement -

आईएएस बनने के लिए युवा क्या-क्या नहीं करते। घंटों की पढ़ाई और कोचिंग फिर भी बहुत सारे युवाओं का आईएएस बनने का सपना पूरा नहीं हो पाता। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे आईएएस अनुकृति शर्मा की कहानी ( IAS Succes Story)। कैसे बिना कोचिंग के उन्होंने अपने आईएएस बनने का सपना पूरा किया और वह भी शादी के बाद। दरअसल शादी के बाद महिलाएं घर गृहस्थी में ही व्यस्त हो जाती हैं, लेकिन अनुकृति शर्मा ने इससे उल्ट दो मिथकों को एकसाथ तोड़ा है। एक मिथक की कोचिंग के बिना आप आईएएस की तैयारी नहीं कर सकते और दूसरा शादी के बाद आपके सपने दफन हो जाते हैं।


यह भी पढ़ें: Delhi Budget 2021 : 2047 तक दिल्लीवासियों की आय 47.74 लाख करने का लक्ष्य, पढ़ें क्या रहा खास

आपको बता दें कि अनुकृति शर्मा (Anukriti Sharma) ने बिना किसी कोचिंग और ऑनलाइन टेस्ट सीरीज के सिविल सेवा परीक्षा 2019 में 133वां रैंक हासिल किया है। अनुकृति शर्मा ने दिल्ली नॉलेज ट्रेक को एक साक्षात्कार के दौरान यूपीएससी और आईएएस बनने तक कहानी बयां की है। अनुकृति शर्मा ने सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination) की तैयारी के लिए लाखों रुपए लेने वाले कोचिंग संस्थानों से दूरी बनाकर रखी। यही नहीं, अनुकृति (Anukriti) ने ऑनलाइन या ऑफलाइन टेस्ट सीरीज में भी हिस्सा नहीं लिया और केवल इंटरनेट के जरिए ही तैयारियां पूरी कीं। अनुकृति का कहना है कि लगातार मेहनत और इंटरनेट के जरिए आप यूपीएससी (UPSSC) की बेहतर तैयारी कर सकते हैं।

अनुकृति शर्मा (Anukriti Sharma) साइंस की छात्रा रही हैं। अनुकृति ने जयपुर के इंडो भारत इंटरनेशनल स्कूल से पढ़ाई की और फिर 2012 में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च कोलकाता (Indian Institute of Science Education and Research Kolkata) से बीएसएमएस (जियोलॉजिकल साइंसेज) में ग्रेजुएशन पूरी की। इसके बाद अनुकृति ने नेट (NET) भी उत्तीर्ण किया। इसके बाद अनुकृति आगे पढ़ने के लिए अमेरिका गईं थीं। अमेरिका (America) से लौटने के बाद उन्होंने आईएएस बनने की ठानी। अनुकृति की शादी हो गई, लेकिन उन्होंने अपने सपने को नहीं छोड़ा। दरअसल, अनुकृति के आईएएस (IAS) बनने के सफर की शुरुआत उनकी शादी के बाद ही हुई है।

यह भी पढ़ें: विधानसभा के बाहर आंगनबाड़ी वर्कर्स ने बोला हल्ला, मानदेय बढ़ोतरी को बताया नाकाफी

दूसरे प्रयास में पाई सफलता

अनुकृति ने बेशक बिना कोचिंग (Coaching) के इंटरनेट के जरिए सफलता हासिल की हो, लेकिन ऐसा नहीं है कि पहले ही प्रयास में उन्हें सफलता मिल गई। आईएएस (IAS Anukriti Sharma) बनने के लिए अनुकृति को चार बार परीक्षा देनी पड़ी। पहले तीन प्रयासों में अनुकृति की रैंक अच्छी नहीं थी, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। 2017 के प्रयास में अनुकृति ने 355वीं रैंक हासिल की थी। इसके बाद उन्होंने 2018 में ब्रेक लिया और 2019 के प्रयास में अनुकृति ने 138वीं रैंक हासिल की।

क्या है अनुकृति की सलाह

यूपीएससी (UPSC) की तैयारी करने वाले लोगों को अनुकृति सेल्फ स्टडी (Self Study) पर ध्यान देने की सलाह देती हैं। वे कहती हैं कि अगर आप कोचिंग (Coaching) कर रहे हैं तो अच्छी बात है लेकिन आपको अपनी सेल्फ स्टडी (Self Study) पर फोकस जरूर करना चाहिए। आपको इस परीक्षा (Exam) में सफल होने के लिए लगातार मेहनत करनी होगी। कई बार इसमें असफलता में भी मिलती है लेकिन इससे निराश होने की जरूरत नहीं है। अनुकृति (Anukriti ) कहती हैं कि आज के दौर में इंटरनेट (Internet) एक अच्छा माध्यम है जिसकी मदद लेकर आप यूपीएससी (UPSC) की तैयारी कर सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है