×

‘2 घंटे के लिए खोले जाएं शराब ठेके, कहीं Drugs ना लेने लग जाएं शराबी’

‘2 घंटे के लिए खोले जाएं शराब ठेके, कहीं Drugs ना लेने लग जाएं शराबी’

- Advertisement -

चंडीगढ़। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते खतरे को देखते हुए पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन पर रखा गया है। इस दौरान प्रशासन द्वारा लोगों सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने के लिए अपने-अपने घरों में रहने की सलाह दी जा रही है। इस देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) के बीच सरकार और प्रशासन द्वारा लोगों को जरुरत की सभी चीजें मुहैया कराने का प्रयास किया जा रहा है। देश के लोगों को जरूरी चीजें जैसे दवा, राशन, सब्जी और दूध वगैरह अपने घर के पास स्थित नजदीकी दुकानों से खरीद रहे हैं। हालांकि इस लॉकडाउन के चलते शराबियों को अपनी रेगुलर खुराक नहीं मिल पा रही है, जिसके चलते उन्हें अपने स्तर पर काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अब इसी बात को ध्यान में रखते हुए एक आईएएस अधिकारी ने एक बड़ा ही अजीबोगरीब सुझाव दिया है।


शराब के आदी लोगों को मानसिक समस्याएं हो सकती हैं

दरअसल चंडीगढ़ में बड़ी प्रशासनिक जिम्मेदारी संभालने वाले आईएएस मनोज परीदा ने कहा है कि उन्हें एक डॉक्टर ने सुझाव दिया है कि 2 घंटे के लिए शराब की दुकानें खोली जाएं, क्योंकि कहीं ऐसा न हो कि शराब की लत के शिकार लोग ड्रग लेने लग जाएं। अपने ट्विटर पर उन्होंने आम जनता से पूछा है कि एक डॉक्टर ने उन्हें सलाह दी है कि कहीं शराब की लत के शिकार लोग ड्रग एडिक्ट ना बन जाएं या फिर डिप्रेशन में ना चले जाएं तो ऐसे लोगों के लिए दिन में 2 घंटे शराब के ठेके चंडीगढ़ में खोले जाएं या नहीं ? कृपया आप लोग अपनी सलाह दें। अधिकारी द्वारा यह ट्वीट किए जाने के बाद यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है और हर तरफ इस बारे में चर्चा की जा रही है। वहीँ इस बारे में मनोचिकित्सकों और डॉक्टरों का कहना है कि शराब न मिलने की वजह से इसके आदी लोगों को मानसिक समस्याएं हो सकती हैं। दिल्ली के डॉक्टर वेंकट कृष्णन का कहना है जो लोग रोज शराब पीते हैं उन्हें समस्या हो सकती है, जब उन्हें शराब ना मिले तो कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है