Covid-19 Update

59,065
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,210,799
मामले (भारत)
117,078,869
मामले (दुनिया)

मांगें न मानी तो आत्महत्या को मजबूर होंगे प्रायवेट बस ऑपरेटर

मांगें न मानी तो आत्महत्या को मजबूर होंगे प्रायवेट बस ऑपरेटर

- Advertisement -

सुंदरनगर। द मंडी जिला प्रायवेट बस ऑपरेटर यूनियन की बैठक लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह सुंदरनगर में अध्यक्ष विरेंद्र सिंह गुलेरिया की अध्यक्षता में हुई। इसमें 10 सितंबर की होने जा रही हड़ताल का यूनियन ने पूरा समर्थन किया है। वीरेंद्र गुलेरिया का कहना है ऑपरेटरों ने बैंक से कर्जा लेकर के बसें डाली हैं और अगर यह रवैया प्रदेश सरकार का यूं ही रहा तो बस ऑपरेटर आत्महत्या करने को मजबूर हो जाएगा।

इसके लिए पूरी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी। उन्होंने दो टूक शब्दों में प्रदेश सरकार को चेताया है कि अगर उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो आने वाले लोकसभा चुनावों में द मंडी जिला प्रायवेट बस ऑपरेटर यूनियन पूरी तरह से चुनावों का बहिष्कार करेगी।

आज डीजल 72.52 रुपये है और किराया वही 2013 का है। आज हमारा किराया 1.45 रुपये प्रति किलोमीटर है। उन्होंने कहा कि यूनियन की मुख्य मांगें है कि ग्रीन टैक्स और अन्य सेक्स हैं, वह न्यूनतम किराया 10 रुपये हो और वर्तमान किराए पर 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो। उन्होंने कहा कि सड़कों की हालत भी दयनीय है। इसके बाद बस अड्डों पर पर्ची में अड्डा फीस में भी अत्यधिक बढ़ोतरी हो चुकी है और हमारा व्यवसाय समाप्त होने जा रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है