Covid-19 Update

1,99,197
मामले (हिमाचल)
1,91,732
मरीज ठीक हुए
3,394
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,414,471
मामले (दुनिया)
×

Lockdown हल नहीं, तब कांग्रेस शासित राज्यों ने पहले ही इसकी अवधि क्यों बढ़ाई: BJP

Lockdown हल नहीं, तब कांग्रेस शासित राज्यों ने पहले ही इसकी अवधि क्यों बढ़ाई: BJP

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में जारी कोरोना संकट के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rauhl Gandhi) ने देश में कोरोना संक्रमण के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए केंद्र सरकार को टेटिंग (Testing) बढ़ाने की सलाह देते हुए कहा कि कोरोना संकट से निपटने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ाया जाना प्रभावी कदम नहीं है। जिसके बाद अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तरफ से राहुल गांधी द्वारा की गई इस टिपण्णी पर जवाब दिया गया है। बीजेपी के महासचिव बीएल संतोष ने कहा है, ‘राहुल गांधी के अनुसार लॉकडाउन समाधान नहीं है, तब कांग्रेस और उसके द्वारा समर्थित सरकारों के मुख्यमंत्रियों ने पहले ही लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा क्यों की?’

इसी के साथ बीजेपी ने कांग्रेस नेता के उस दावे को भी खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने भारत में संक्रमण के संबंध में पर्याप्त जांच नहीं किये जाने का दावा किया था। केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी ने कहा कि भारत में संक्रमण के स्तर पर जांच की संख्या गंभीर रूप से प्रभावित देशों की तुलना में अधिक है। वहीं बीजेपी नेता विनय सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि सरकार आगे बढ़कर स्थिति का सामना कर रही है और कोविड-19 को परास्त करने का प्रयास कर रही है, दूसरी ओर वह (राहुल गांधी) ऐसे विचारों को रख रहे हैं जो हारी हुई मानसिकता का परिचायक है।


गौरतलब है कि महाराष्ट्र में कांग्रेस पार्टी वहां गठबंधन सरकार का हिस्सा है और राज्य ने पीएम नरेंद्र मोदी की लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा से पहले ही 30 अप्रैल तक बंदी को बढ़ा दिया था। पंजाब में भी कांग्रेस सत्ता में है और वहां भी पीएम मोदी के लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा से पहले ही बंदी की अवधि को बढ़ा दिया गया था। पीएम मोदी ने कहा था कि अधिकांश सीएम ने महामारी से मुकाबला करने के लिये लॉकडाउन का समर्थन किया था। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को कहा कि लॉकडाउन से कोरोना वायरस संकट का स्थायी समाधान नहीं होगा, बल्कि बड़े पैमाने पर और रणनीतिक रूप से जांच से ही इस वायरस को पराजित किया जा सकता है। उन्होंने पीएम मोदी से यह आग्रह भी किया कि राज्यों और जिलों को पर्याप्त संसाधन मुहैया कराए जाएं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है