Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,152,127
मामले (भारत)
115,499,176
मामले (दुनिया)

नाचन का मामलाः 15 दिन में नहीं हटा टीन शेड तो DC Mandi का होगा घेराव

मंडी की एक पंचायत में टीन शेड बनाने में नियमों की उड़ी धज्जियां

नाचन का मामलाः 15 दिन में नहीं हटा टीन शेड तो DC Mandi का होगा घेराव

- Advertisement -

सुंदरनगर। मंडी (Mandi) जिला की नाचन विधानसभा क्षेत्र के तहत आने एक ग्राम पंचायत में ग्रामीणों के घर के बाहर बनाया टीन का शेड सवालों के घेरे में आ गया है। इसको लेकर प्रभावित परिवार से पंकज सोनी और उनके कानूनी सलाहकार व आरटीआई एक्टिविस्ट रजनीश शर्मा व अश्वनी सैनी ने प्रेस वार्ता आयोजित कर पंचायत प्रतिनिधि व संबंधित अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मामले में आरोप है कि पंचायत प्रधान ने सरकारी जमीन पर सामुदायिक सेंटर (Community Center) के नाम पर इस टीन शेड को अपने पति और राजनीतिक व प्रशासनिक सहयोग से बनाकर पंकज सोनी नामक स्थानीय निवासी के घर का रास्ता बंद कर दिया है। इस शेड के निर्माण पर कानून और नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई गई हैं। प्रभावितों द्वारा आरटीआई (RTI) में मिली जानकारी के अनुसार मार्च माह में हुए इस शेड के निर्माण के लिए ना तो पंचायत की ग्राम सभा में कोई प्रस्ताव पारित किया, ना ही सरकारी धन का उपयोग हुआ।

यह भी पढ़ें: NSUI ने सीएम आवास का किया घेराव, पुलिस के साथ हल्की धक्का-मुक्की

किसी कनिष्ठ अभियंता (Junior Engineer) और पंचायत सचिव देखरेख में भी ऐसा कोई कार्य नहीं हुआ और ना ही इस प्रकार की सूचना पंचायत के रिकॉर्ड में उपलब्ध है। शेड के उपर बिजली की थ्री-फेज लाइन होने के बावजूद बिजली विभाग के साथ ही टीसीपी (TCP) से अनापत्ति प्रमाण पत्र तक नहीं लिए गए। दोनों विभागों द्वारा पंचायत को इस संदर्भ में नोटिस देने पर भी काम नहीं रोका गया। ऐसे में यह तय है कि इसमें नियमों की भी जमकर अवहेलना की गई है। मामले में आरटीआई कार्यकर्ता रजनीश शर्मा ने चेतावनी दी है कि यदि अगले 15 दिन के अंदर इस मामले के दोषी प्रधान और लापरवाह अधिकारियों पर मामला दर्ज कर शेड को हटाया नहीं गया तो प्रभावित परिवार अन्य सामाजिक संस्थाओं और ग्रामीणों के साथ मिलकर डीसी मंडी का घेराव किया जाएगा। इस सूरत में पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।

 

 

प्रभावित परिवार के कानूनी सलाहाकार रजनीश शर्मा ने कहा कि इस विषय को लेकर सुंदरनगर पुलिस थाना में भी शिकायत दी गई, लेकिन राजनीतिक प्रभाव के चलते पुलिस द्वारा भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। शेड के उपर बिजली की थ्री-फेस लाइन होने के कारण हर समय जान का खतरा बना रहता है। पंकज सोनी ने कहा कि उनके तीन परिवारों के 16 सदस्यों के आने-जाने के लिए केवल मात्र एक यही रास्ता है। ऐसे में यदि आने वाले समय में शेड में दीवारें खड़ी कर दी जाती हैं तो रास्ता पूरी तरह से बंद हो जाएगा।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है