Expand

अपने खानपान में ये चीजें शामिल करेंगे तो कभी नहीं होंगे डार्क सर्कल्स

आंखों के नीचे बढ़ता कालापन अनुवांशिक भी हो सकता है

अपने खानपान में ये चीजें शामिल करेंगे तो कभी नहीं होंगे डार्क सर्कल्स

- Advertisement -

शरीर के अन्य भागों की अपेक्षा आंखों के नीचे की त्वचा बेहद नाजुक और पतली होती है। चेहरे की त्वचा में किसी भी तरह का परिवर्तन आने पर आंखों के नीचे की स्किन पर इसका असर बहुत आसानी से दिखने लगता है। महिलाओं की त्वचा से संबंधित सबसे बड़ी समस्या में से एक है डार्क सर्कल। इसके लिए नींद की कमी ही जिम्मेदार नहीं है बल्कि हार्मोनल असंतुलन, असंतुलित डाइट, विटामिन की कमी, एलर्जी और कई बार आंखों को तेज़ी से रगड़ने से भी डार्क सर्कल होते हैं। आंखों के नीचे बढ़ता कालापन अनुवांशिक भी हो सकता है और उम्र बढ़ने के साथ स्थिति और ख़राब भी हो जाती है। लेकिन ज़्यादातर लोगों में डार्क सर्कल की समस्या विटामिन की कमी की वजह से होते हैं। जानिए डार्क सर्कल्स से छुटकारा पाने के लिए आपको किन चीज़ों के सेवन की ज़रूरत है।

जो लोग एनीमिया के शिकार होते हैं और जिन के शरीर में आयरन की मात्रा बहुत कम होती है उनके आंखों के नीचे की त्वचा बेजान हो जाती है। इसके लिए आप हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, पालक, दाल, बीन्स, नट्स, ब्राउन राइस, गेहूं, सूखे मेवों का सेवन कर सकते हैं।

जब शरीर में विटामिन के की कमी होती है तब आंखों के आसपास की जगह की केपेलेरिस डैमेज होने लगती है जिसके कारण आंखों के नीचे कालापन आने लगता है। हरी पत्तेदार सब्ज़ियों, पालक, फूलगोभी, ब्रोकोली, पत्तागोभी, मछली, मीट और अंडों में विटामिन के पाया जाता है।

विटामिन ई आपकी त्वचा को दमकता हुआ और फ्रेश रखता है। विटामिन ई की कमी के कारण त्वचा बेजान और उम्रदराज नज़र आती है। इसके अलावा विटामिन ई पफीनेस को ठीक करने में मदद करता है और ये डार्क सर्कल पर भी असर दिखाता है। आप विटामिन ई सूरजमुखी के तेल, मूंगफली, बादाम, सूरजमुखी के बीज, पालक, ब्रोकोली आदि से हासिल कर सकते हैं।

ज़्यादातर लोगों को लगता है कि विटामिन सी सिर्फ ठंड से बचने में मदद करता है लेकिन ऐसा नहीं है। ये डार्क सर्कल को ट्रीट करने में अहम भूमिका अदा करता है। विटामिन सी त्वचा का लचीलापन बनाये रखने में मदद करता है और ये ब्लड वेसल्स को मज़बूत करके ये सुनिश्चित करता है कि आंखों के आसपास की त्वचा स्वस्थ रहे। विटामिन सी त्वचा की रंगत को हल्का भी करता है। आप सिट्रस फल, नींबू, आलू, टमाटर, पालक, फूलगोभी, ब्रोकोली से विटामिन सी की कमी को पूरा कर सकते हैं।

विटामिन ए एक एंटी-ऑक्सीडेंट है जो एक बेहतरीन एंटी एजिंग विटामिन की तरह काम करता है। विटामिन ए झुर्रियों से लड़ता है, कोलेजन का उत्पादन बढ़ाता है और आंखों के नीचे आए कालेपन को कम करने में मदद करता है। विटामिन ए की पूर्ति के लिए आप कॉड लिवर ऑयल, मक्खन, पपीता, तरबूज़, एप्रीकॉट, आम आदि का सेवन कर सकते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है