Expand

अगर आप के शरीर में हैं तिल और मस्से तो हो जाएं सावधान

अगर आप के शरीर में हैं तिल और मस्से तो हो जाएं सावधान

- Advertisement -

बहुत से लोगों के शरीर पर मस्से या फिर तिल होते हैं और लोग इनकी तरफ कम ध्यान देते है। अकसर ये तिल और मस्से शरीर के प्राइवेट पॉर्ट्स, हाथ, उंगलियों, कोहनी या गर्दन पर अधिक होते हैं। पहले तो ये छोटे-छोटे होते हैं, फिर धीरे- धीरे इनका साइज बढ़ता जाता है। अगर आप के शरीर पर कोई तिल या मस्सा है और उसका आकार बढ़ रहा है तो ये चिंता वाली बात है। दरअसल तिल और मस्सा एक तरह से स्किन डिजीज होता है लेकिन जब छोटा सा तिल बड़ा होने लगे या मस्से बढ़ने लगें तो आपको सतर्क रहना चाहिए। ये तिल और मस्से बढ़ने का कारण एचपीवी इंफेक्शन होता है। गंभीर बात तो यह है कि एचपीवी इंफेक्शन अगर बढ़ जाए तो इससे कैंसर तक का खतरा होता है। आइए जानते हैं आखिर क्या है एचपीवी।

  • एचपीवी यानी ह्यूमन पैपिलोमावायरस 150 से ज्यादा वायरसों का एक समूह होता है। एचपीवी वायरस के कारण त्वचा पर मस्से और तिल उभर आते हैं। पुरुषों को इस रोग का ज्यादा खतरा होता है, उनके प्राइवेट पार्ट्स या इसके आस-पास के हिस्से पर मस्से उभर आते हैं।
  • एचपीवी इंफेक्शन कई बार खतरनाक हो सकता है क्योंकि इसके कारण कई तरह के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। इस तरह के इंफेक्शन का खतरा समलैंगिक पुरुषों को ज्यादा होता है।
  • एचपीवी संक्रमण शरीर में किसी घाव, कटी हुई त्वचा के जरिए पहुंचता है। प्राइवेट पार्ट्स में होने वाले मस्से सेक्स रिलेशन के दौरान पार्टनर में भी फैल सकता है। यही नहीं फीमेल्स को एचपीवी प्रेग्नेंसी में फैल सकता है।
  • एचपीवी संक्रमण के लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। आमतौर पर इस वायरस से बचाव के लिए एचपीवी टीके लगाए जाते हैं। ये टीके 11-12 साल की उम्र में लड़के-लड़कियों को लगाए जाते हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है