Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,855,783
मामले (भारत)
201,702,198
मामले (दुनिया)
×

निजी कंपनियों में काम करते हैं तो 120 रुपए में बदल जाएगी जिंदगी, जानें पूरा मामला

निजी कंपनियों में काम करते हैं तो 120 रुपए में बदल जाएगी जिंदगी, जानें पूरा मामला

- Advertisement -

नई दिल्ली। श्रमिक या निजी कंपनी (Private Company) में काम करने वाले लोगों के लिए ये खबर काम की साबित हो सकती है क्योंकि, आज हम आपको हरियाणा की एक 120 रुपए की ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आपकी जिंदगी बदल जाएगी। इसमें कामगार को सिर्फ साल के 120 रुपए देने होंगे जिसके बाद वह ताउम्र 19 सुविधाएं पा सकता है। इसके तहत कामगारों को शिक्षा (Education) और स्वास्थ्य (Health) से संबंधित सुविधाएं दी जाएंगी। हालांकि, योजना का फायदा सिर्फ वही ले सकता है जिसकी मासिक आय 25 हजार से कम हो।

अगर किसी श्रमिक के लड़के लड़कियां पहली से 12वीं कक्षा तक पढ़ाई जारी रखते हैं तो इसके लिए उन्हें स्कूल ड्रेस, किताब-कापियां आदि खरीदने के लिए हर साल 3 से 4 हजार रुपए की मदद मिलेगी।


श्रमिकों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति योजना: 9वीं से 10वीं तक लड़कों के लिए 5000, लड़कियों के लिए 7000 रुपये प्रति वर्ष, 11वीं से 12वीं के लड़कों के लिए 5500, लड़कियों के लिए 7750 रुपए, यह सुविधा मेडिकल पढ़ाई तक भी पैसा बढ़ाकर दी जाएगी।

श्रमिकों के बच्चों को खेलकूद (Sports) के लिए: प्रतियोगिता के आधार पर 2000 से 31000 रुपए तक दिया जाएगा।

श्रमिकों के बच्चों को कल्चरल प्रतियोगिताओं में स्थान प्राप्त करने पर 2000 से 31000 रुपये तक दिया जाएगा.

श्रमिकों को चश्मे के लिए 1500 तक की मदद।

महिला श्रमिकों तथा श्रमिकों की पत्नियों को दो बार के लिए डिलीवरी पर 10-10 हजार रुपए

श्रमिकों और उनके आश्रितों को डेंटल केयर व जबड़ा लगवाने के लिए 4 से 10 हजार तक की मदद।

किसी भी दुर्घटना में अपंग हुए श्रमिकों व उनके आश्रितों को कृत्रिम अंगों (Artificial Limbs) के लिए सहायता

बधिर श्रमिकों व उनके बधिर आश्रितों को श्रवण मशीन के लिए 5000

दिव्यांग श्रमिकों तथा उनके आश्रितों को तिपहिया साईकिल के लिए 7000 की सहायता

श्रमिकों के दिव्यांग बच्चों को 20,000 से 30,000 रुपए

अगर किसी व्यक्ति के 3 बेटियां और दो बेटे 9वीं और 10वीं क्लास में पढ़ाई करते हैं, तो उस श्रमिक को इसके लिए सालाना 31 हजार रुपए सरकार की तरफ से दिए जाएंगे। अगर किसी श्रमिक की शादी होती है तो उसे सरकार की तरफ से 51,000 रुपए दिए जाएंगे। यह तीन बेटियों के लिए ही मान्य होगा।

श्रमिक की किसी भी कारण से मृत्यु होने पर उसकी विधवा या आश्रित को 2,00,000 की सहायता राशि

श्रमिक की कार्य स्थल या बाहर किसी भी कारण से मृत्यु होने पर दाह संस्कार के लिए 15000

कार्यस्थल पर काम करते वक्त मौत होने पर आश्रित को 5 लाख की मदद

श्रमिकों की सेवा के दौरान दुर्घटना या अन्य कारण से दिव्यांग होने पर: 1.5 लाख तक की मदद

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है