Covid-19 Update

57,189
मामले (हिमाचल)
55,745
मरीज ठीक हुए
959
मौत
10,654,656
मामले (भारत)
98,988,019
मामले (दुनिया)

IGMC अस्पताल में जरा संभलकर, चोर कब आ धमके पता नहीं

IGMC अस्पताल में जरा संभलकर, चोर कब आ धमके पता नहीं

- Advertisement -

 शिमला। प्रदेश के सबसे बड़े आईजीएमसी अस्पताल में इन दिनों चोर सक्रिय हैं। बीते कुछ दिन में वहां चोरी वारदातें हो चुकी हैं और चोर पुलिस की पहुंच से दूर हैं। बीती रात भी वहां चोरी का एक मामला पेश आया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीती रात मेडिसिन विभाग के वार्ड में चोर दबे पांव आ धमका और वहां सो रहे मरीज के सामान पर हाथ साफ कर फरार हो गया। अस्पताल के इस वार्ड में घुसा यह शातिर चोर सोलन के रहने वाले जगत राम की पत्नी लीला देवी का बैग और कपड़े उठाकर फरार हो गया। लेकिन गनीमत यह रही कि चोर लोगों के शोर से बैग ले जाने में असफल रहा और इस बैग में पड़े 10 हजार रुपए बच गए।  वार्ड में मौजूद अन्य लोगों ने उससे चोरी करते हुए देखा तो लोगों ने उसका पीछा किया। ऐसे में लोगों ने जब उससे पकड़ने की कोशिश की तो उसने शौचालय का शीशा तोड़ा और खुद खिड़की से फरार हो गया।

  • अस्पताल में रोज पेश आ रही चोरी की घटनाएं, पुलिस खाली हाथ
  • बीती रात मेडिसिन विभाग के वार्ड में चोरी का असफल प्रयास

चोर ने बैग को शौचालय के पास ही छोड़ दिया। चोरी की दहशत फैलते ही वार्ड में सभी मरीज जाग उठे और मरीजों के बीच अफरा-तफरी मंच गई। अस्पताल में डर के चलते मरीज सुबह तक सोते हुए नजर नहीं आए। अस्पताल से चोर जो बैग चोरी कर ले जा रहा था, उसमें 10 हजार रुपये और कुछ जरूरी दस्तावेज थे, लेकिन गनीमत यह रही कि चोर बैग से पैसे नहीं निकाल पाया और लोगों को पीछा करते देख बैग को वहीं छोड़ कर फरार हो गया।  यदि लोगों ने शातिर को चोरी करते न देखा होता तो मरीज के पास बीमारी का इलाज करवाने के लिए पैसे भी न बचते। बैग में पैसे के अलावा मरीज के आधार कार्ड, पर्ची और स्वास्थ्य कार्ड आदि अन्य दस्तावेज थे।

Shimla पुलिस की अनूठी पहल, चोरियों से कैसे बचें…

शिमला। राजधानी में चोरी की घटनाओं के बढ़ने के बाद शिमला पुलिस हरकत में आ गई है। पुलिस ने शिमला के उपनगर संजौली में आज पुलिस-जनता संपर्क नाम से अपना अभियान चलाया। आज संजौली में एएसपी साक्षी ने अभियान की शुरुआत की। इसके तहत पुलिस ने आज संजौली के इंजनघर क्षेत्र में कई घरों में दस्तक दी और लोगों को चोरी की घटनाओं से कैसे बचना है, उसके बारे में जानकारी दी। साथ ही इस संबंध में कुछ टिप्स भी उन्हें दिए। संजौली ऐसा उपनगर है जो अन्य स्थानों की अपेक्षा चोरों की ज्यादा नजर है। इसे देखते हुए पुलिस ने इस उपनगर में अपनी गतिविधि तेज की हैं।

  • पुलिस ने संजौली चौकी के तहत छेड़ा विशेष अभियान

पुलिस ने चोरी की वारदातों पर रोक लगाने को लोगों से संवाद बढ़ाने का फैसला लिया और आज इस दिशा में कदम बढ़ाया। एसपी शिमला डीजब्ल्यू नेगी की पहल पर यह कार्य शुरू किया गया है। उनके सभी अफसरों को निर्देश साफ हैं कि संजौली में हर घर में दस्तक देनी है। चाहे वह बहुमंजिला घर है या पिर कोई ढारा। जिन लोगों से पुलिस संपर्क करेगी, उनका नाम और पता और हस्ताक्षर रजिस्टर में दर्ज होगा। अभियान में एएसपी, एडिशनल एसपी, सभी डीएसपी शामिल किए गए हैं। आज से शुरू किए गए इस अभियान के दौरान घर-घर लोगों को अपराध से बचने के बारे में उपाय बताए गए। घर, दुकान और  व्यवसायिक परिसरों में सीसीटीवी कैमरे, सेंसर लॉक, एंटी थेफ्ट अलार्म लगाने को भी कहा गया। लोगों से कहा गया कि घरों से बाहर जाते समय पड़ोसी, रिश्तेदार को अवश्य बताएं और आपस में संपर्क रखें। लंबे समय के लिए घर से बाहर जा रहे हैं तो पुलिस को अवश्य सूचित करें।

घर में गहने और अन्य कीमती सामान को न रखें और इन्हें बैंक लॉकर में ही रखें। इसके साथ-साथ घर के ताले और लॉकर आदि की चाबी हमेशा साथ रखें। यही नहीं, यदि घर में किसी व्यक्ति को काम पर रखते हैं तो पहले पुलिस का सत्यापन अवश्य करवाएं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है