Covid-19 Update

1,98,901
मामले (हिमाचल)
1,91,709
मरीज ठीक हुए
3,391
मौत
29,570,881
मामले (भारत)
177,058,825
मामले (दुनिया)
×

अपनी बड़ी उपलब्धि के बाद भी मीडिया से इसलिए छिपता रहा IIT मंडी 

अपनी बड़ी उपलब्धि के बाद भी मीडिया से इसलिए छिपता रहा IIT मंडी 

- Advertisement -

मंडी। IIT मंडी में करोड़ों के घपले और नौकरियों की बंदरबांट के उजागर होने के बाद प्रबंधन में अभी भी मीडिया को लेकर खौफ है। बुधवार को एशिया की सबसे छोटी नैनो चिप को बनाने वाले सेंटर के उद्घाटन के बाद भी प्रबंधन ने न तो कोई प्रेस ब्रीफिंग की और न ही कोई बयान जारी किया। 
मीडिया के प्रतिनिधियों ने ही खुद अपने स्तर पर जानकारियां जुटाईं। IIT मंडी का मीडिया सेल मीडियाकर्मियों को प्रेस ब्रीफिंग के नाम पर ईधर-उधर भटकाता रहा। आपको बता दें कि बुधवार को IIT मंडी में एमएचआरडी के सचिव आर. सुब्रमण्यम ने एशिया में बनने वाली नैनो चिप के सेंटर का शुभारंभ किया। ऐसे मौके पर प्रेस ब्रीफिंग होती तो पत्रकारों को इसकी सही जानकारी मिल सकती थी और इससे संबंधित सवाल-जवाब हो सकते थे। लेकिन IIT प्रबंधन को डर था कि संस्थान की गोलमाल की जो शिकायतें एमएचआरडी तक पहुंची हैं, कहीं पत्रकार उनके बारे में न पूछ लें। इसी डर के कारण पत्रकारों को सचिव महोदय से नहीं मिलने दिया गया।

बयान में जानकारी कम और सिरदर्दी ज्यादा

IIT मीडिया सेल के बयान में जानकारी कम और सिरदर्दी ज्यादा थी। एक साधारण व्यक्ति को खबर के माध्यम से क्या समझाना है, इसके बारे में IIT की प्रेस रिलिज में कोई जानकारी नहीं थी। इस बारे में जब IIT के मीडिया सेल से बात की गई तो उन्होंने स्पष्ट कहा कि एमएचआरडी के सचिव आर. सुब्रमण्यम से मीडिया कर्मियों की बात नहीं करवाई जा सकती, क्योंकि वह मीटिंग में व्यस्त हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि IIT को अपना कारगुजारियां छुपाने का कितना खौफ सता रहा है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, एमएचआरडी के सचिव आर. सुब्रमण्यम से मंडी के सांसद राम स्वरूप शर्मा दो बार व्यक्तिगत तौर पर मुलाकात करके IIT में हो रहे गोलमाल को लेकर बात कर चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाही नहीं हो पाई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है