Expand

illegal Drive : 7 और Volvo बसें जब्त, बस ऑपरेटर्स भड़के

illegal Drive : 7 और Volvo बसें जब्त, बस ऑपरेटर्स भड़के

- Advertisement -

टीम।  परिवहन मंत्री जीएस बाली द्वारा बुधवार अलस्सुबह अवैध रूप से चल रही वॉल्वो बसों की जांच को खुद सड़क पर उतरे और बसों को जब्त किया व कुछ बसों के चालान काटे। परिवहन मंत्री की इस कार्रवाई के बाद परिवहन विभाग भी सतर्क हो गया है। आज परिवहन विभाग ने कांगड़ा व मंडी में बिना दस्तावेज चल रहीं सात वॉल्वो बसों को जब्त किया। इसमें तीन बसें कांगड़ा व चार बसें मंडी में पकड़ी हैं। उधर इस कार्रवाई के बाद वॉल्वो बस ऑपरेटर भड़क गए हैं। वॉल्वो बस ऑपरेटर्स का कहना है कि यह कार्रवाई अवैध है। उन्होंने सीएम से परिवहन मंत्री जीएस  बाली को तुरंत पद से हटाने की मांग की है।

एचआरटीसी धर्मशाला वर्कशॉप में रखी जब्त बसें

गफूर खान/धर्मशाला। बस माफिया के खिलाफ परिवहन विभाग की कार्रवाई लगातार दूसरे दिन भी जारी रही। परिवहन मंत्री के खुद सड़क पर उतरने के बाद विभागीय अधिकारियों की भी तन्द्रा टूटी और उन्होंने अवैध रूप से चल रही निजी लग्जरी बसों की धरपकड़ का अभियान जारी रखा। गुरुवार तड़के ही आरटीओ ऊना ने अवैध रूप से बिना कागजात और टैक्स चोरी करने के चलते तीन वॉल्वो बसों को जब्त किया है जबकि एक बस को जुर्माना वसूलने के बाद छोड़ दिया गया।

  • आरटीओ ऊना ने आज सुबह की कार्रवाई
  • कांगड़ा बाईपास पर पकड़ी चार लग्जरी बसें

gafoor-2यह कार्रवाई गुरुवार सुबह कांगड़ा बाईपास पर अमल में लाई गई जब दिल्ली से मैक्लोडगंज के लिए निजी वॉल्वो बसें वापस आ रही थीं। इस कार्रवाई में आरटीओ ऊना के साथ हिमाचल परिवहन निगम के मंडलीय प्रबन्धक विजय सिंह सिपहिया और क्षेत्रीय प्रबंधक धर्मशाला पंकज चड्ढा ने भी भरपूर योगदान दिया। आज जब्त की गई तीनों बसों को एचआरटीसी धर्मशाला को वर्कशॉप में रखा गया है। वहीं, इन बसों में यात्रा कर रहे यात्रियों को कोई असुविधा न हो इसका इंतजाम भी किया गया था। इन बसों को जब्त करने के बाद इनके यात्रियों को एचआरटीसी की 2 वॉल्वो बसों में उनके ठिकानों तक पहुंचाया गया।

  • एक बस से जुर्माना वसूल छोड़ा, तीन जब्त

gafoor-3परिवहन निगम इन यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने का किराया भी आरोपी बस ऑपरेटर्स से वसूल करेगा। इसके अलावा निगम की वर्कशॉप में खड़ी की गई बसों का पार्किंग शुल्क भी इनके मालिकों से वसूला जाएगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार एक दिन का पार्किंग शुल्क 150 रुपए निर्धारित किया गया है और जितने दिन यह बसें खड़ी रहेंगी उतने दिन का पार्किंग शुल्क 150 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से वसूल किया जाएगा।

मनाली से दिल्ली जा रही बसों को कब्जे में लिया

volvoमंडी। अवैध रूप से चल रही वॉल्वो बसों को पकड़ने का सिलसिला जारी हो चुका है। कांगड़ा के बाद मंडी में चार वॉल्वो बसें परिवहन विभाग की संयुक्त कार्रवाई में जब्त की हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज दोपहर बाद मंडी के पास बिंद्रावनी में परिवहन विभाग की टीम ने मनाली से दिल्ली जा रही चार वॉल्वो बसों को कब्जे में लिया। परिवहन विभाग की टीम ने बिंद्रावनी में नाका लगाया हुआ था। इस दौरान मनाली से आ रही चार बसों की चैकिंग के लिए रोका और बसों की जांच की गई। मौके पर चालक व परिचालक कोई दस्तावेज नहीं दिखा पाए। इसके बाद विभाग की टीम ने सवारियों की टिकट चैक की। वैद्य दस्तावेज न दिखा पाने के कारण परिवहन विभाग की टीम ने बसों को जब्त कर लिया। बस में बैठी सवारियों को अन्य बसों के माध्यम से दिल्ली के लिए रवाना किया। आरटीओ मुरारी लाल ने बताया कि चार वॉल्वो बसें कब्जे में ली गई हैं। उन्होंने कहा कि बिना दस्तावेज दौड़ रही बसों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी।

snrबाली पर भड़के VOLVO Bus Operator
नितेश सैनी/ सुंदरनगर। वॉल्वो बसों को लेकर परिवहन मंत्री जीएस बाली द्वारा की गई कार्रवाई पर वॉल्वो ऑपरेटर भड़क गए हैं। उन्होंने परिवहन मंत्री द्वारा धर्मशाला, मनाली व दिल्ली से चलाई जाने वाली वॉल्वो बसों पर मंडी, कांगड़ा व अंब में की गई कार्रवाई को हिमाचल प्रदेश के वॉल्वो बस ऑपरेटर्स ने दादागिरी करार दिया है। मनाली वॉल्वो एसोसिएशन ने बाली पर मनमानी करने, ऑपरेटर्स व पर्यटकों को जानबूझ कर परेशान करने का आरोप लगाया है। बाली की कार्रवाई को अवैध बताते हुए ऑपरेटर्स भड़क गए हैं। इसी संदर्भ में वॉल्वो बस ऑपरेटर यूनियन ने प्रदेश स्तरीय आपात बैठक मंडी में बुलाई जिसमें तकरीबन 2 दर्जन ऑपरेटर्स ने भाग लिया। मीडिया के समक्ष पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि बाली ने 30 नवंबर यानी बुधवार को रोज न केवल बस चालकों, परिचालकों से  बदतमीजी की बल्कि सवारियों से भी दुर्व्यवहार किया। सवारियों को इतनी सर्दी में सड़कों पर उतार दिया गया। मनाली वॉल्वो एसोसिएशन के प्रधान लाजवंती शर्मा महासचिव अनंत ठाकुर सहित तमाम ऑपरेटरों ने बताया की उनकी बसें वैध तरीके से चलाई जा रही हैं। वह अपने स्तर पर बिना परिवहन विभाग के सहयोग से पर्यटकों को बेहतर सुविधाए दे रहे हैं, लेकिन परिवहन मंत्री लगातार उनके हिमाचल के हितों की  अनदेखी कर रहे हैं।
उन्होंने मुख्यमंत्री से परिवहन मंत्री बाली को तुंत पद से हटाने और बेमतलब ऑपरेटरों परेशान न करने की भी मांग की है। उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि उन्हें अकारण तंग किया गया, तो वे सड़कों पर उतरेंगे और उच्च न्यायालय का भी दरवाजा खटखटाएंगे। गौरतलब है कि परिवहन मंत्री ने वॉल्वो बसों को अवैध रूप से चलने का आरोप लगते हुए बेदी, भोलेनाथ, नॉर्दन ट्रैवलर, जिमीदार, स्नोलाइन, चामुंडा, लक्ष्मी व सिल्वर मून बसों को कब्जे में लेकर धर्मशाला व देहरा बस अड्डों पर खड़ा किया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है