×

शिकंजा : तालाब में छिपाए थे अवैध शराब के 10 Drum

शिकंजा : तालाब में छिपाए थे अवैध शराब के 10 Drum

- Advertisement -

फतेहपुर पुलिस ने पंजाब के साथ लगते कोडू वेला-जट बेली पर की रेड

illegal liquor : फतेहपुर। चरस माफिया की कमर तोड़ने के बाद अब पुलिस ने शराब माफिया के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है। डीएसपी जवाली के साथ-साथ फतेहपुर थाना प्रभारी ने पंजाब सीमा से सटे कोडू वेला और जट बेली में दबिश दी है। पुलिस ने यहां पर भारी मात्रा में अवैध शराब को बर्बाद किया है। जानकारी के अनुसार थाना फतेहपुर के तहत पंजाब बॉर्डर के साथ लगते क्षेत्रों पर मंगलवार को फतेहपुर थाना प्रभारी मनोहर चौधरी की अगुवाई में पुलिस टीम ने दबिश दी, जिस पर  पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अवैध शराब बनाने वालों के मनसूबों पर पानी फेर दिया है।


illegal liquor: सरकारी जमीन में बने छोटे तालाबों में छिपाई थी शराब

पुलिस को जैसे ही सूचना मिली तो पुलिस ने देशी शराब बनाने वालों को पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया। डीएसपी जवाली धर्म चंद वर्मा ने बताया कि मंगलवार सुबह ही पुलिस ने पंजाब के साथ लगते कोडू वेला व जट बेली में व्यास नदी के पास सरकारी जमीन में बने छोटे-छोटे तालाबों में छिपाए गए दस देशी शराब के ड्रम खोज निकाले हैं, जिसमे करीब तीन हजार लीटर देशी शराब को पुलिस ने नष्ट कर दिया है। हालांकि इन छिपाए गए ड्रमों का कोई वारिस नहीं है, जिसके चलते अनजान लोगों के विरुद्ध पुलिस ने लाहण (देसी शराब) का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी है व सामान को जब्त करते हुए हजारों लीटर लाहण नष्ट की है। 

पांच घंटे चला ऑपरेशन, ट्रैक्टर से निकाले ड्रम

पुलिस का यह ऑपरेशन आज सुबह थाना प्रभारी मनोहर चौधरी की अगुवाई में चला है। पांच घंटे चले इस ऑपरेशन में पुलिस ने ट्रैक्टर की सहायता से पानी के अंदर छिपाए ड्रमों को बाहर निकालकर शराब को नष्ट किया। एसपी कांगड़ा संजीव गांधी ने बताया कि नशे को जड़ को खत्म करने पुलिस ने नशा मुक्त ऑपरेशन चलाया है, जिसके चलते पुलिस पंजाब के साथ लगती सीमाओं पर दबिश दे रही है। मंगलवार सुबह फतेहपुर पुलिस ने पंजाब के साथ लगते मंड क्षेत्र में दबिश दी है, जिससे अनजान लोगों के विरुद्ध  मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि अवैध शराब का कारोबार करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

OMG! नगर पालिका की Parking में खड़ी Car में मिले 3 शव

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है