Covid-19 Update

2,01,054
मामले (हिमाचल)
1,95,598
मरीज ठीक हुए
3,446
मौत
30,082,778
मामले (भारत)
180,423,381
मामले (दुनिया)
×

अब मौसम विभाग बता रहा PoK, गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद का भी हाल, कहा- ये भारत का हिस्सा

अब मौसम विभाग बता रहा PoK, गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद का भी हाल, कहा- ये भारत का हिस्सा

- Advertisement -

नई दिल्ली। अभी कुछ दिनों पहले ही गिलगित-बाल्टिस्तान में चुनाव कराने की अनुमति देने वाले पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ भारत ने पाकिस्तान के समक्ष कड़ा विरोध दर्ज करवाया है। भारत की तरफ से कहा गया कि पाकिस्तान के पास जबरन अधिकृत किसी क्षेत्र के दर्जे में बदलाव करने की कार्रवाई का कोई कानूनी आधार नहीं है। इसके साथ ही भारत ने पाकिस्‍तान को साफ-साफ समझा दिया है कि गिलगित-बाल्टिस्‍तान उसका अभिन्‍न अंग है। जिसके बाद अब भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department- IMD) ने बड़ा कदम उठाते हुए अब जम्मू-कश्मीर के साथ ही PoK (पाक अधिकृत कश्मीर), गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के मौसम का हाल भी बताना शुरू कर दिया है।

IMD की ओर से अपने बुलेटिन में गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद को जगह देना बड़ा अहम है। IMD के डायरेक्‍टर-जनरल मृत्‍युंजय महापात्रा ने कहा कि ‘IMD पूरे जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख के लिए वेदर बुलेटिन जारी करता रहा है। हम बुलेटिन में गिलगित-बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद का जिक्र इसलिए कर रहे हैं क्‍योंकि वह भारत का हिस्‍सा है।’ उन्होंने कहा, ‘लंबे समय से आईएमडी पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल आदि के लिए गंभीर मौसम पूवार्नुमान जारी कर रहा है। हम अपने राष्ट्रीय बुलेटिन में इस जानकारी का उल्लेख करते थे। पिछले दो दिनों से हमने अपने क्षेत्रीय बुलेटिन में भी इस जानकारी का उल्लेख करना शुरू कर दिया है।’ एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मौसम विभाग के अधिकारियों ने इस बदलाव की पुष्टि की है। लद्दाख अलग राज्य बन गया है, इसलिए वहां के मौसम का हाल अलग से बताया जा रहा है।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है