Expand

आदेशः घटिया बीज; खाद, दवाएं और कीटनाशक बेचने वालों पर करो कार्रवाई

आदेशः घटिया बीज; खाद, दवाएं और कीटनाशक बेचने वालों पर करो कार्रवाई

- Advertisement -

कृषि विभाग ने सेट किया टारगेट, मार्च तक भरने होंगे 15 सौ सैंपल

शिमला। प्रदेश में खाद्य उत्पादन के लिए किसानों को घटिया बीज, खाद्य, दवाएं और कीटनाशक सप्लाई करने वालों की अब खैर नहीं। उत्पादन में बढ़ोतरी के लिए किसानों को निम्न स्तर की दवाएं और कीटनाशक सप्लाई किए जाते हैं और कई दुकानों में ऐसे उत्पाद भी मिल जाते हैं। इससे किसानों को बजाय लाभ होने के उल्टा नुकसान हो जाता है। इसे देखते हुए कृषि विभाग ने इस पर कमर कस ली है। बाजार में घटिया खाद, बीज और कीटनाशक की बिक्री पर शिकंजा कसने के मकसद से राज्य सरकार ने सभी कृषि अधिकारियों को सैंपल भरने का टारगेट तय करते हुए राज्यभर में सैंपल लेने के आदेश दिए हैं। राज्य में रबी सीजन में मार्च माह तक 15 सौ से अधिक सैंपल लेने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए कृषि निदेशक ने सभी जिलों के अपने अफसरों को आदेश दिए है। कृषि अधिकारियों को संबंधित ब्लॉक के तहत पड़ते वाली दुकानों में जाकर सैंपल लेने को कहा है। जांच में यदि सैंपल की रिपोर्ट ठीक न आई तो संबंधित विक्रेता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कई मुनाफाखोर घटिया बीज बेच देते हैं…

राज्य में खाद्यान्न उत्पादन को बढ़ाने के लिए अच्छे बीज की जरूरत होती है और इसकी आड़ में कई मुनाफाखोर घटिया बीज बेच देते हैं और उन्हें इसका पता तब चलता है जब फसल ठीक नहीं होती। इससे किसान खुद को ठगा हुआ महसूस करते हैं। इसे देखते हुए कृषि विभाग ने राज्य में सैंपल लेकर कार्रवाई करने को कहा है। विभाग के निदेशक डॉ. देसराज शर्मा ने कहा कि किसानों को अच्छे गुणवत्ता के बीज, खाद और कीटनाशक उपलब्ध करवाने को विभाग प्रयासरत है। उनका कहना था कि जो विक्रेता गलत बीज और घटिया खाद व बीज बेचेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने इसके लिए जिला स्तर पर अफसरों को सैंपल लेने को कहा है। यदि कोई सैंपल फेल होता है तो संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है