Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

चीन की सीमा से सटे हल, की व गयू में बनेंगे तीन Helipad, एक का काम पूरा

चीन की सीमा से सटे हल, की व गयू में बनेंगे तीन Helipad, एक का काम पूरा

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल के शीत मरूस्थल स्पीति में चीन बॉर्डर से सटे हल, की व गयू क्षेत्र में तीन तीन हेलीपैड (Helipad) बनाए जाएंगे। इनमें एक का काम लगभग पूरा हो चुका है। दो काम अभी जारी है, जोकि जल्द पूरा होगा। यह जानकारी शिमला में मीडिया से बातचीत में कृषि एवं जनजातीय विकास मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय ने दी। उन्होंने कहा कि बॉर्डर एरिया डेवलपमेंट प्रोग्राम (Border Area Development Program) के तहत हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है। जल्द ही घाटी के की, हल व गयू में हेलीपैड काम करने शुरू कर देंगे। तीनों हेलीपैड के निर्माण पर एक-एक करोड़ से अधिक की राशि खर्च होने का अनुमान है। गयू में प्रस्तावित हेलीपैड का निर्माण कार्य लगभग पूरा होने को है। की और हल में हेलीपैड निर्माण पूरा होने में कुछ समय लगेगा। उन्होंने कहा कि वीवीआईपी (VVIP) के अलावा सेना भी इन हेलीपैड उपयोग कर सकेगी। डॉ. रामलाल मार्कंडेय ने कहा कि किन्नौर जिला के करीब 120 किलोमीटर सीमा क्षेत्र और स्पीति घाटी के 80 किलोमीटर क्षेत्र को पिछड़ा क्षेत्र विकास योजना में शामिल किया गया है। इन क्षेत्रों के विकास पर हर साल करोड़ों की राशि खर्च की जा रही है। योजना के तहत सीमांत क्षेत्रों में सड़कों के निर्माण के अतिरिक्त सामुदायिक भवनों और स्वास्थ्य केंद्रों का निर्माण किया जा रहा है। यहां पर पर्यटन विकास को लेकर भी सरकार काम कर रही है।

यह भी पढ़ें: Corona संकट के बीच हिमाचली सीमा में उड़ता दिखा चीनी Helicopter, बॉर्डर पर बढ़ाई सतर्कता

स्पीति में किसी महिला के खिलाफ मामला नहीं दर्ज

कृषि एवं जनजातीय विकास मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय (Agriculture and Tribal Development Minister Dr. Ramlal Markandey) ने बताया कि हर साल दस-दस पंचायतों को चयनित किया जा रहा है। इनमें अधोसंरचना व अन्य विकास कार्य प्रारंभ किए हैं। हर वर्ष करीब 30 करोड़ रुपये इन क्षेत्रों में खर्च किए जा रहे हैं। बागवानी व कृषि विकास भी पिछड़ा क्षेत्र विकास योजना का हिस्सा है। मार्कंडेय ने कहा कि स्पीति घाटी में पर्यटन विकास के तहत 4 जगहों पर कैफेटेरिया का निर्माण किया जा रहा है। स्पीति में महिलाओं द्वारा उनके खिलाफ प्रदर्शन करने के मामले पर उन्होंने कहा कि महिलाओं की नारेबाजी को कांग्रेस (Congress) बेवजह तूल दे रही है। किसी भी महिला के खिलाफ कोई भी मामला दर्ज नहीं किया गया है। इसमें एक मामला दर्ज हुआ है। वह दो पुरुषों के खिलाफ है और इसमें किसी भी महिला को नाम नहीं है।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है