Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,786
मामले (भारत)
117,749,800
मामले (दुनिया)

पुरुषों को आखिर नसबंदी से क्यों परहेज, 2 साल में एक ने भी नहीं करवाई

पुरुषों को आखिर नसबंदी से क्यों परहेज, 2 साल में एक ने भी नहीं करवाई

- Advertisement -

चंबा। परिवार नियोजन के प्रति भट्टियात क्षेत्र में मात्र महिलाएं ही आगे आ रही हैं, जबकि पुरुषों की भूमिका शून्य है। आलम यह कि पिछले 2 सालों में किसी भी पुरुष ने नसबंदी नहीं करवाई। बताते चलें कि चुवाड़ी अस्पताल में लगने वाले परिवार नियोजन कैंपों से पिछले 2 साल से पुरुषों ने किनारा कर रखा है तो वहीं काफी संख्यां में महिलाएं नसबंदी को आती हैं। गत सोमवार को भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। नसबंदी के लिए जहां काफी महिलाएं पहुंची तो वहीं पुरुष गायब दिखे। ज़ाहिर है परिवार नियोजन तो सभी चाहते हैं, मगर खुद की नसबंदी के नाम से पुरुष कन्नी काट लेते हैं।

यह भी पढ़ें :- 

सिविल अस्पताल चुवाड़ी परिवार नियोजन कैंप का आयोजन किया गया, जिसमें चुवाड़ी के आस पास के गावों की महिलाओं में काफी उत्साह दिखा। इस कैंप में 33 महिलाओं ने नलबंदी करवाई। विभागीय सूत्रों ने बताया कि परिवार नियोजन करवाने पुरूषों में इसे अपनाने में काफी कम रूचि देखी गई है। पिछले दो सालों से एक भी पुरूष ने नसबन्दी नही करवाई।जबकि महिलाओं में परिवार नियोजन के बारे में अधिक जागरूकता है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी संजय गुप्ता ने बताया कि सभी महिलाओं के आपरेशन सफलतापूर्वक हो गए है जल्द ही सभी को घर भेज दिया जाएगा। उन्होंने खुलासा करते हुए बताया कि पिछले 2 साल में एक भी पुरुष ने नलबंदी नहीं करवाई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है