Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

आयकर विभाग का शिकंजा : Lalu Prasad के 22 ठिकानों पर मारे छापे

आयकर विभाग का शिकंजा : Lalu Prasad के 22 ठिकानों पर मारे छापे

- Advertisement -

Income Tax raid: नई दिल्ली। चारा घोटाले में फंसे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। आयकर विभाग ने मंगलवार सुबह कथित बेनामी संपत्ति मामले में 22 ठिकानों पर छापे मारे हैं। दिल्ली के साथ गुरुग्राम (गुड़गांव) के अलग-अलग ठिकानों पर यह छापेमारी हुई है, जिसमें लालू प्रसाद के करीबी प्रेम गुप्ता का नाम भी सामने आ रहा है। राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर कथित संलिप्तता वाले 1000 करोड़ रुपए के बेनामी भूमि सौदों के आरोप लगे हैं। बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने लालू और उनके परिवार पर यह आरोप लगाया था। यह छापेमारी सुबह साढ़े सात बजे से ही चल रही है।

सुशील मोदी ने लालू परिवार पर लगाया था घोटाले आरोप

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने लालू परिवार पर एक और घोटाले का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि लालू परिवार ने दिल्ली में 115 करोड़ की अवैध संपति को अपने नाम करा लिया है। सुशील मोदी अनुसार डिलाइट मार्केटिंग, एके इनफोसिस्टम के तर्ज पर लालू परिवार ने एक और कंपनी एबी एक्सपोर्टस प्राइवेट लिमिटेड की शेयर होल्डिंग, डायरेक्टरशिप और करोड़ों की संपति सहित पूरी कंपनी को कब्जा लिया है। आरोपों के अनुसार दिल्ली के सबसे पॉश इलाके में जमीन खरीदने के लिए मुम्बई के पांच बड़े ज्वेलर्स, सोने के व्यापारियों ने एबी एक्सपोर्टस को एक-एक करोड़ रुपए का कर्ज बिना ब्याज दिया है। कुल पांच करोड़ का कर्ज बिना सूद का 2007-2008 में दिया गया था।


उनके अनुसार कम्पनी ने पांच करोड़ का बिना सूद का कर्ज पर उसी वर्ष नई दिल्ली के D-1008 New friend’s colony में 800 वर्ग मीटर जमीन मकान सहित 5 करोड़ में खरीदा। आज इसकी कीमत 55 करोड़ से ज्यादा है। इस जमीन पर आज लालू परिवार का 4 मंजिला मकान तैयार है जिसकी कीमत 60 करोड़ लगाई जा रही है। इस कम्पनी के शेयर अब केवल तेजस्वी और चंदा यादव के पास है। रागिनी, लालू और चंदा यादव कंपनी के डायरेक्टर हैं। लालू परिवार नई दिल्ली में चार से पांच लाख की पूंजी लगाकर 115 करोड़ की सम्पति का मालिक बन गया है। हालांकि, आरजेडी ने आरोपों का खंडन किया है। नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि यह झूठा आरोप है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है