स्वतंत्रता दिवस 2019 : इस दिन से जुड़ी ये बातें नहीं जानतें होंगे आप

स्वतंत्रता दिवस के जश्न में नहीं शामिल थे महात्मा गांधी

स्वतंत्रता दिवस 2019 : इस दिन से जुड़ी ये बातें नहीं जानतें होंगे आप

- Advertisement -

नई दिल्ली। 15 अगस्त 2019 को पूरे भारत में स्वतंत्रता दिवस (independence day) के रूप में मनाया जाता है। सन 1947 में इसी दिन भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी मिली थी। आप ये तो जानते ही होंगे कि आजादी दिलाने में राष्ट्र पिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का महत्वपूर्ण योगदान रहा है लेकिन आपको इस बात की जानकारी नहीं होगी कि जब भारत को आजादी (Freedom) मिली थी तो महात्मा गांधी इस जश्न में नहीं थे। क्योंकि तब वे दिल्ली से हजारों किलोमीटर दूर बंगाल के नोआखली में थे, जहां वे हिंदुओं (Hindu) और मुस्लिमों के बीच हो रही सांप्रदायिक हिंसा को रोकने के लिए अनशन कर रहे थे। इसी तरह की कई और भी रोचक बातें हैं जो आपको हम बताने जा रहे हैं।


यह भी पढ़ें- इस स्वतंत्रता दिवस आजमाएं ये फैशन टिप्स, यूं रंग जाएं तिरंगे के रंग में

अगस्त महीने में आधी रात को जब जवाहर लाल नेहरू ने अपना ऐतिहासिक भाषण ‘ट्रिस्ट विद डेस्टनी’ दिया था। इस भाषण को पूरी दुनिया ने सुना था लेकिन महात्मा गांधी ने इसे नहीं सुना क्योंकि उस दिन वे जल्दी सोने चले गए थे।

हर साल स्वतंत्रता दिवस पर भारत के पीएम लाल किले से झंडा फहराते हैं, लेकिन 15 अगस्त, 1947 को ऐसा नहीं हुआ था। लोकसभा सचिवालय के एक शोध पत्र के मुताबिक नेहरू ने 16 अगस्त, 1947 को लाल किले से झंडा फहराया था।

15 अगस्त तक भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा रेखा का निर्धारण नहीं हुआ था। इसका फैसला 17 अगस्त को रेडक्लिफ लाइन की घोषणा से हुआ जोकि भारत और पाकिस्तान की सीमाअओं को निर्धारित करती थी।

भारत 15 अगस्त को आजाद जरूर हो गया लेकिन उस समय उसका अपना कोई राष्ट्र गान नहीं था। हालांकि रवींद्रनाथ टैगोर ‘जन-गण-मन’ 1911 में ही लिख चुके थे, लेकिन यह राष्ट्रगान 1950 में ही बन पाया।

15 अगस्त की तारीख हो ही दक्षिण कोरिया, बहरीन और कांगो देश का भी स्वतंत्रता दिवस होता है। हांलाकि ये देश अलग-अलग वर्ष क्रमश: 1945, 1971 और 1960 को आजाद हुए थे।

यह लार्ड माउंटबेटन ही थे जिन्‍होंने निजी तौर पर भारत की स्‍वतंत्रता के लिए 15 अगस्‍त का दिन तय किया क्‍योंकि इस दिन को वह अपने कार्यकाल के लिए बेहद सौभाग्‍यशाली मानते थे।

15 अगस्त को भारत के अलावा तीन अन्य देशों का भी स्वतंत्रता दिवस होता है। दक्षिण कोरिया जापान से 15 अगस्त, 1945 को आज़ाद हुआ। ब्रिटेन से बहरीन 15 अगस्त, 1971 को और फ्रांस से कांगो 15 अगस्त, 1960 को आजाद हुआ था।

15 अगस्त, 1947 को लॉर्ड माउंटबेटन ने अपने दफ़्तर में काम किया। दोपहर में नेहरू ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल की सूची सौंपी और बाद में इंडिया गेट के पास प्रिसेंज गार्डेन में एक सभा को संबोधित किया।

15 अगस्त 1947 को, 1 रुपया 1 डॉलर के बराबर था और सोने का भाव 88 रुपए 62 पैसे प्रति 10 ग्राम था।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मौसम की मारः  824 सड़कें अभी भी बंद, एचआरटीसी को 452 करोड़ का घाटा

बीच मानसून सत्र कल हमीरपुर क्यों आ रहे सीएम जयराम ठाकुर- जानिए

कैबिनेट की बैठक खत्म, इन मुद्दों पर हुई चर्चा-यह लिए निर्णय

चुइंगम खाने से इंकार किया तो पत्नी को दिया तीन तलाक, मामला दर्ज

धारा 118 पर  राठौर बोले, प्रदेश को दूसरे राज्य के पूंजीपतियों के हाथों बिकने नहीं देंगे

पार्टी कार्यक्रम से नदारद रहने वाले "सुधीर" अभी धर्मशाला से कांग्रेस प्रत्याशी नहीं

हिमाचल में आई प्राकृतिक आपदाओं के लिए केंद्र ने मंजूर की अतिरिक्त सहायता राशि

मानसून सत्रः भाखड़ा बांध विस्थापितों को लेकर जयराम की बड़ी घोषणा

सदन में बोले जयरामः बरसात में हुईं 63 मौतें, 626 करोड़ का नुकसान-केंद्र से मांगेंगे मदद

सिंघा बोले- बारिश से तबाही आम आपदा नहीं, बल्कि राष्ट्रीय आपदा- केंद्र करे मदद

प्राइमरी स्कूल में 8 साल की छात्रा से जलवाहक ने की छेड़छाड़-गिरफ्तार

सीएम जयराम के PSO का FB अकाउंट हुआ हैक, डाली 'पाकिस्तान जिंदाबाद' वाली पोस्ट

हिमाचल: बाढ़ में फंसी मलयालम एक्ट्रेस, खाने के पड़ गए थे लाले-पढ़ें पूरी खबर

महेंद्र ठाकुर बोलेः विधायक होते पुलिस ने पीटा, जेल में डाला-क्या भूल गई कांग्रेस

मेजबान की मजबूरीः धर्मशाला में कांग्रेस के कार्यक्रम के बीच पढे़ं सुधीर शर्मा की पाती

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है