Covid-19 Update

1,98,901
मामले (हिमाचल)
1,91,709
मरीज ठीक हुए
3,391
मौत
29,570,881
मामले (भारत)
177,058,825
मामले (दुनिया)
×

मलेशियाई PM के CAA विरोधी बयान के बाद भारत ने पाम ऑयल पर लगाए नए प्रतिबंध

मलेशियाई PM के CAA विरोधी बयान के बाद भारत ने पाम ऑयल पर लगाए नए प्रतिबंध

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत (India) ने मलेशिया से आयात होने वाले पाम ऑयल-पामोलिन (palm oil) को ‘रिस्ट्रिक्टेड कैटेगरी’ में डालकर उन पर नए प्रतिबंध लगा दिए हैं। हालांकि क्रूड पाम तेल (सीपीओ) का आयात मलेशिया से जारी रहेगा। बताया जा रहा है कि सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम से देसी खाद्य तेल उद्योग को फायदा होगा। बता दें कि भारत पाम ऑयल का बड़ा खरीदार है और उसने जनवरी-नवंबर 2019 के बीच मलेशिया से 42.7 लाख मीट्रिक टन पाम ऑयल मंगाया था। बता दें कि मलेशियाई पीएम (Malaysian PM) महातिर मोहम्मद ने दिसंबर में नागरिकता (संशोधन) कानून (सीएए) की आलोचना (anti-CAA statement) की थी।

यह भी पढ़ें:  वीडियो: CM के ज़िले में मंत्री के बेटे ने महिला कर्मियों को धमकाया, फूट-फूटकर रोईं

इससे पहले सूत्रों द्वारा इस बात का दावा किया जा रहा था कि सरकार ने पाम तेल का शोधन करने वाली कंपनियों को मलेशिया से पाम आयल का आयात नहीं करने की अनौपचारिक सलाह दी है। जिसके बाद केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत आने वाले वाले विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) द्वारा बुधवार को जारी अधिसूचना के अनुसार, एग्जिम कोड 15119010 और 15119020 के तहत आने वाले कमोडिटी क्रमश: रिफाइंड ब्लीच्ड ड्येडराइज्ड पाम ऑयल और रिफाइंड ब्लीच्ड ड्येडराइज्ड पामोलीन के आयात को प्रतिबंद्धित श्रेणी में कर दिया गया है। सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के प्रेसीडेंट अतुल चतुर्वेदी ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है